अबैध वसूली के केन्द्र बने प्राईवेट बीटीसी कालेज

327

गाजीपुर – सैदुपर नगर के वार्ड संख्या 11 स्थित मोती लाल यादव महाविद्यालय में व्याप्त दुर्व्यवस्था, बीटीसी प्रशिक्षुओं से अभद्रता और अवैध वसूली के विरोध में बुधवार को प्रशिक्षणार्थियों ने नगर स्थित जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान परिसर में प्रदर्शन किया। इसके बाद जूलूस की शक्ल में आये प्रशिक्षणार्थियों ने डायट प्राचार्य कोमल यादव व तहसील पहुंचकर उपजिलाधिकारी सत्यम मिश्र को शिकायत पत्र शौंपा। डायट प्राचार्य और उपजिलाधिकारी द्वारा मामले की जांच कराकर आवश्यक कार्यवाई का भरोसा दिये जाने पर प्रशिक्षणार्थियों ने अपना प्रदर्शन समाप्त किया। डायट में विरोध प्रदर्शन कर रहे बीटीसी प्रशिक्षुओं ने अपने प्रार्थना पत्र में विद्यालय प्रबंधन के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाया। जिसमें विद्यालय प्रबंधन द्वारा विद्यालय में पेयजल की व्यवस्था न करना और इसकी शिकायत पर छात्राओं से अभद्रता करने के अलावा, दौ सौ रूपये प्रति अनुपस्थिति, डोनेशन का प्रति वर्ष 30 हजार रूपये, बोर्ड फार्म का प्रति सेमेस्टर 3 हजार, प्रति सेमेस्टर प्रयोगात्मक परीक्षा के लिये ढाई हजार तथा प्रति सेमेस्टर पांच सौ रूपये पवेश पत्र की वसूली करने का आरोप लगाया। प्रशिक्षणार्थियों ने बताया कि इसका विरोध करने वाले प्रशिक्षणार्थियों को विद्यालय के प्रबंधक द्वारा प्रयोगात्मक परीक्षा में कम अंक देने और सेमेस्टर बैक की धमकी भी दी जाती है। कहा बिते कई दिनों से विद्यालय में पेयजल की किल्लत बनी थी, जिसके कारण आयेदिन कोई न कोई प्रशिक्षणार्थी की तबियत खराब हो रही थी, लेकिन जब प्रशिक्षणार्थी इसकी शिकायत प्रबंधक से करते थे, तो उनके द्वारा प्रशिक्षणर्थियों से बदसलूकी की जाती थी। बताया जब सभी प्रशिक्षणार्थी प्रबंधक के इस दुर्व्यवहार, दुर्व्यवस्था और अवैध वूसली से परेशान हो गये, तो आज सभी ने मिलकर यह प्रदर्शन करने का निर्णय लिया। डायट प्राचार्य कोमल यादव ने बताया कि प्रशिक्षुओं द्वारा की गई शिकायत की जांच कराई जायेगी। उपजिलाधिकारी सत्यम मिश्र ने कहा कि मामले की जांच कराकर विद्यालय प्रबंधन के खिलाफ आवश्यक कार्यवाई की जायेगी।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries