आखिर अखिलेश ने क्यो कहा ?राम नाम जपना ,पराया काम अपना 

लखनऊ- जब भी किसी प्रदेश या केन्द्र मे सत्ताधारी दल बदलता है तो पुरानी सरकार के योजनाओं का नाम बदता है। उत्तर प्रदेश मे समाजवादी पार्टी की सरकार के पुर्व बसपा की मायावती की सरकार थी और माया सरकर मे महामाया पेन्सन योजना लागू थी लेकिन जब अखिलेश यादव मुख्यमंत्री वने तो महामाया पेन्सन योजना का नाम बदल कर , समाजवादी पेन्सन योजना हो गया।  अम्बेदकर गाँवो के जगह पर , राममनोहर लोहिया का नाम हो गया। सरकार बदलती है, नाम बदते है लेकिन योजनए वही रहती है। उत्तर प्रदेश मे जब से आदित्य नाथ योगी के नेतृत्व भारतीय जनता पार्टी की सरकार आयी है, बस वही पुरान खेल चालू है। पुर्वती अखिलेश सरकार के कामों और योजनाओं के  नाम बदल कर , नया बतलाने की कोशिसो पर तंज कसते हुए पुर्व सी.एम.अखिलेश यादव ने कहा कि ” राम नाम जपना , पराया काम अपना ,,।