और अब मदरसों में प्रतिबंधित होगा कुर्ता-पजामा

817

दिल्ली-मदरसों में एनसीईआरटी पैटर्न लागू करने के बाद सरकार जल्द ही ड्रेस कोड भी लागू कर सकती है। उत्तर प्रेदश सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मामलों के राज्यमंत्री मोहसिन रजा ने इस बात की घोषणा की है कि यूपी के मदरसों में जल्दी ही ड्रेस कोड लागू किया जाएगा। इसमें पेंट-शर्ट पहन कर छात्र मदरसों में पढ़ने के लिए जाएंगे। हालांकि मदरसों के बच्चों को पेंट-शर्ट सरकार की ओर से दिए जाएंगे या फिर छात्रों को स्वयं खरीदना पड़ेगा। इसकी जानकारी नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि कई मदरसों में अभी तक के बच्चे कुर्ते पयजामे में ही आते हैं लेकिन अब जल्द उनके लिए ड्रेस कोड लागू होगा।

मंगलवार को सरोजनीनगर स्थित अली मियां नदवी मेमोरियल हज हाउस में हज यात्रियों के टीकाकरण व प्रशिक्षण कार्यक्रम में उ०प्र० राज्य हज मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि मदरसों में आमतौर पर बच्चे कुर्ता पैजामा पहन कर आते हैं। जिससे उनकी पहचान एक धर्म विशेष से होती है। ये किसका ड्रेस है और किसने लागू किया, इसके बारे में हमें नहीं पता लेकिन मदरसे के छात्रों के बीच इसे खत्म करना जरूरी है। इसलिए हम मदरसों में नए ड्रेस कोड को लेकर विचार कर रहे हैं। जल्द ही सरकार इस पर निर्णय लेगी। इससे पहले यूपी सरकार मदरसों में होने वाली पढ़ाई के सिलेबस में बदलाव कर चुकी है। बाकी स्कूलों की तरह मदरसों में भी एनसीईआरटी की किताबें लागू कर दी गई हैं। सिलेबस में मैथ्स, हिंदी और इंग्लिश को भी लागू किया जा चुका है।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries