और देर रात थाना करंण्डा जिला गाजीपुर मे होता है , यह गंदा काम

1215

गाजीपुर -उत्तर प्रदेश मे जब से भाजपा की सरकार मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के नेतृत्व मे बनी है तब से टी०वी० चैनल हो या प्रिन्ट मिडिया गोरक्षको के गोरक्षा के नाम पर उत्पात अत्याचर की खबरे ही दिखाते आये है। गाजीपुर जनपद के करंण्डा थाना के अन्तर्गत आने वाले क्षेत्र मे आज भी निर्बाध पसु तस्करी कायम है। ये पसु तस्कर दिन मे अपने निरधारीत व सुरक्षित स्थान पर रूके रहते है और देर रात मे अपने पसुओं के साथ करण्डा के ताल मे होते हुये , धरम्मरपुर के पास पीपा के पुल से जमानियाँ पहुँच जाते है। जमानियाँ से लटियाँ, दरौली होते हुए सुखी कर्मनास को भोर मे 2 से 4 के बीच मे पार कर जाते है। इन पसु तस्करों को अपने-अपने सीमा से पार कराने के लिये प्रत्येक गाँव मे दबंग सुरक्षा गार्ड है , जो इसके बदले मोटी रकम पसु तस्करो से लेते है। बर्तमान समय मे करण्डा थाने के एक एस०आई० और कई गाँव के प्रईवेट सुरक्षा गार्डो में धन बंटवारे को लेकर बिबाद चल रहा है। अगर प्राईवेट सुरक्षा गार्डो और पुलिस मे मतभेद नही होता तो सम्भवत: भेद भी नही खुलता ।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries