क्या रितेश सिह होगें जमानियाँ से सपा के विधान सभा प्रत्याशी 2017 मे ?

image

गाजीपुर- जैसे उद्योगपति और पुंजीपति अपने व्यापार को अपने वारिसों को सौपते है वैसे ही हमारे देश के नेता भी अपनी विरासत अपने बच्चों को सौंपने लगे है। भारतीय राजनीति मे इस के एक- दो नही बल्कि हजारों उदाहरण है । चौधरी चरण सिह की विरासत अजीत सिह ने सम्हाला तो बीजू पटनायक की विरासत नवीन पटनायक ने सम्हाला , नेहरु की विरासत इन्दिरा गान्धी ने सम्हाला । उत्तर प्रदेश मे समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिह यादव ने अपने जीते जी अपने बेटे अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बना कर , शिवपाल यादव और रामगोपाल यादव को खुब अच्छी तरह से समझने की कोशिश किया कि  “ मुलायम की विरासत पर  सिर्फ़ और सिर्फ अखिलेश का अधिकार है कीसी शिवपाल और रामगोपाल का नही ” ।
अब आते है गाजीपुर की समाजवादी पार्टी की राजनीति पर , गाजीपुर की समाजवादी पार्टी मे तीन चेहरे ही थे जो गाजीपुर हो या लखनऊ पर मजबूत पकड़ रखते थे । वर्तमान कैविनेट मंत्री ओमप्रकाश सिह ,सादाब फातिमा और स्व० कैलाश यादव । मैडम सादाब के पुत्र का राजनीति से कोई लेना- देना नही है । स्व० कैलाश यादव अपने जीते जी अपने पुत्र डाँ० विरेन्द्र को जिला पंचायत का चेयरमैन वना कर अपनी विरासत सौप गये । डाँ० विरेन्द्र भी जंगीपुर उप चुनाव मे अपनी माँ किसमतिया देबी को विधायक बना कर अपने राजनैतिक बिरोधीयो की बोलती बन्द कर चूके है। जहाँ तक सवाल कैविनेट मंत्री ओमप्रकाश सिह का है तो श्री सिह.के  सुपुत्र रितेश सिह की विधान सभा क्षेत्र मे रात- दिन की सक्रियता यह स्पष्ट संकेत दे रही हैं कि  ” वर्ष 2017 के विधान सभा चुनाव मे जमानियाँ से समाजवादी पार्टी के टिकट पर रितेश सिह ही प्रत्याशी होगे।  आप सोच रहे होगे कि ओमप्रकाश सिह क्या करेगें ? तो जान लिजिये कैविनेट मंत्री ओमप्रकाश सिह लोकसभा का चुनाव लडगे और अब दिल्ली की राजनीति करेंगे।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store