गर्भवती महिला तड़पती रही और डा० लापता-गाजीपुर

0
240

गाजीपुर- गाजीपुर जिला महिला चिकित्सालय में 15 डॉक्टरों के पद सृजित हैं , लेकिन इस में से केवल 5 चिकित्सक तैनात है । उसमें भी मरीज को बेहोश करने वाला डॉक्टर कोई नहीं है । इसके चलते ऑपरेशन से होने वाला प्रसव नहीं हो पाता था। इसको देखते हुए सीएमओ डॉक्टर जी सी मौर्या ने सैदपुर में तैनात बेहोशी के डॉक्टर को जिला महिला चिकित्सालय से संबद्ध कर दिया । जिला महिला अस्पताल में हर रोज सिजेरियन प्रसव से 2 से 3 बच्चे पैदा होते हैं । सोमवार को एक गर्भवती प्रसव पीड़ा होने पर जिला महिला चिकित्सालय में पहुंची, जहां चिकित्सकों ने चेकअप किया तो पाया कि उसका सामान्य प्रसव नहीं हो सकता । सिजेरियन प्रसव करना होगा , जिला महिला अस्पताल में सिजेरियन करने वाले चिकित्सक मौजूद थे लेकिन मरीज को बेहोश करने वाले डॉक्टर गायब थे , इस पर जिला महिला चिकित्सालय की सी.एम.एस.डॉ विनीता जयसवाल ने उक्त डा० को फोन किया तो पता चला कि वह अभी तक वाराणसी में है , इधर गर्भवती महिला का दर्द बढ़ता जा रहा था इसे परिजन परेशान हो गए वह सी.एम.एस. और सी.एम.ओ. पर दबाव बनाने लगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here