गाजीपुर:चौ०चरण सिंह के नाम से कृषि वि०वि०खोला जाय

183

गाजीपुर: 23दिसम्बर को समाजवादी पार्टी के तत्वाधान में किसानों के मसीहा एवं देश के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह जी की 121वीं जयंती पर जिलाध्यक्ष गोपाल यादव की अध्यक्षता में पार्टी कार्यालय समता भवन पर माल्यार्पण कार्यक्रम एवं विचार गोष्ठी आयोजित हुई । गोष्ठी आरंभ होने के पूर्व सभी कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए किसानों के हित में संघर्ष करने का संकल्प लिया ।उनकी जयंती किसान दिवस के रूप में मनाई गई ।
इस गोष्ठी में अपने विचार व्यक्त करते हुए जिलाध्यक्ष गोपाल यादव ने चौधरी साहब को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि वह देश के महान नेता और अर्थशास्त्री थे । वह किसानों के हित के लिए सदैव चिंतित रहते थे। उन्होंने मोदी सरकार को किसान विरोधी बताया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों के चलते आज देश का किसान आत्महत्या करने को मजबूर है। किसानों की समस्यायों के प्रति मोदी सरकार संवेदनहीन बनी हुई है।यह सरकार पूंजीवाद को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने कहा कि यह सरकार लगातार जुल्म और ज्यादती कर रही है। इनके जुल्म और ज्यादती के खिलाफ संघर्ष करने की जरूरत है। कहा कि जुल्म,अन्याय और शोषण के खिलाफ संघर्ष करना हम समाजवादियों का धर्म रहा है। उन्होंने कहा कि चौधरी साहब का जीवन हम सबके लिए प्रेरणादाई है।
अपने विचार व्यक्त करते हुए विधायक डॉ वीरेंद्र यादव ने चौधरी साहब को नमन करते हुए कहा कि चौधरी साहब किसानों के मसीहा थे । वह किसानों की पीड़ा को अपनी पीड़ा समझते थे । वह कहा करते थे कि असली भारत गांव में रहता है ।देश की तरक्की का रास्ता गांव के खेत खलिहानों से होकर गुजरता है । राष्ट्र तभी सम्पन्न हो सकता है जब उसके ग्रामीण क्षेत्र का उन्नयन किया गया हो । उन्होंने पुर्वांचल में चौधरी चरण सिंह के नाम पर कृषि विश्वविद्यालय खोलने की मांग किया।
विधायक डॉ वीरेंद्र यादव ने चौधरी साहब को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि वह भ्रष्टाचार के घोर विरोधी थे,वह निहायत ईमानदार व्यक्ति थे । वह कहते थे कि जिस देश के लोग भ्रष्ट होंगे वह देश कभी तरक्की नहीं कर सकता । आज जब देश का किसान अपनी समस्याओं को लेकर आंदोलित है,खाद की किल्लत से जूझ रहा है, बढ़े हुए बिजली और डीजल के दामों के चलते उसकी आय निरन्तर घट रही है, किसानों के साथ भाजपा सरकार का रवैया सौतेलापूर्ण और संवेदनहीन हो गया हो ,ऐसे दौर में देश का किसान बहुत ही शिद्दत से चौधरी साहब को याद कर रहा है ।
इस विचार गोष्ठी में मुख्य रूप से पूर्व विधायक उमाशंकर कुशवाहा, डॉ नन्हकू यादव, रविन्द्र प्रताप यादव,राम औतार विश्वकर्मा, सीमा यादव,अरुण कुमार श्रीवास्तव, सदानंद यादव,अमित ठाकुर अभिषेक कुशवाहा,दिनेश यादव, उपेन्द्र यादव,विजय शंकर यादव, निजामुद्दीन खां, विभा पाल, रीना यादव, कंचन रावत,बैजू यादव , हरिवंश यादव, कैलाश यादव, मुन्ना यादव, रामाशीष यादव, दया शंकर यादव एडवोकेट, गुड्डू यादव,मनीराम, अखिलेश यादव,गरीब यादव संजय यादव आदि उपस्थित थे। विचार गोष्ठी का संचालन जिला महामंत्री कन्हैया लाल विश्वकर्मा ने किया।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries