गाजीपुर-अतिक्रमण हटाने गयी राजस्व व पुलिस टीम पर हमला

0
360

गाजीपुर-करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के मिश्रपुरा ताजपुर गांव में अतिक्रमण हटाने गए राजस्व कर्मी व पुलिस टीम सहित जेसीबी चालक पर अतिक्रमणकारियों द्वारा हमला बोल दिया गया। जिसमें जेसीबी चालक विनोद कुमार घायल हो गया। जान बचाने के लिए राजस्व कर्मी व पुलिस वहां से भाग खड़े हुए। सूचना पाकर तहसीलदार मुहम्मदाबाद व सर्किल क्षेत्र की पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद दोबारा दूसरे जेसीबी को मंगवा कर अतिक्रमण हटाने का कार्य शुरू कराया गया।  इस हमले के दौरान हल्का लेखपालों के सरकारी कागजात व बस्ते गायब हो गए।
 करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के मिश्रपुरा ताजपुर ग्राम सभा की जमीन पर कुछ लोगों द्वारा अतिक्रमण कर कब्जा कर दिया गया था। जिस के संबंध में माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद के निर्देश पर काब्जादारों के खिलाफ 67 (1)  के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया।  इसके तहत मुकदमा दर्ज करने के बाद न्यायालय में मुकदमा चलाया गया जिसके तहत कब्जादारों के खिलाफ बेदखली का फैसला हुआ। फैसले के क्रियान्वयन के लिए राजस्व विभाग की टीम, पुलिस फोर्स तथा जेसीबी लेकर मिश्रपुरा ताजपुर गांव पहुंचे। ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने के लिए जैसे ही शुरू किया गया अतिक्रमण कर्ताओं द्वारा गोलबंद होकर उन पर धावा बोल दिया गया।  तीन दर्जन से अधिक लोग गोरबंद होकर पहले जेसीबी चालक के ऊपर धावा बोल उसके ऊपर ईट पत्थर फेंकते हुए उसके तरफ बढ़े तो उसके बचाव में जैसे ही राजस्व कर्मी व पुलिस सामने आए उनके ऊपर भी लोगों ने धावा बोल दिया। अपने ऊपर हमला होता देख राजस्व कर्मी व पुलिस के लोग मौके से भाग खड़े हुए । इनके द्वारा किए गए हमले में राजस्व कर्मी जिसमें लेखपाल व कानूनगो सहित पुलिस वालों को भी चोट आई। इस दौरान हमलावरों द्वारा जेसीबी चालक को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया जिसमें जेसीबी चालक  विनोद कुमार घायल हो गया। घायल अवस्था में विनोद कुमार को स्थानीय डॉक्टर के यहां ताजपुर में इलाज कराया गया।
जैसे ही इस घटना की जानकारी विभाग के उच्चाधिकारियों को हुई उच्चाधिकारियों ने पुलिस को अवगत कराते हुए घटना स्थल पर पहुंचे जिसमें तहसीलदार मुहम्मदाबाद व नायब तहसीलदार सहित सर्किल क्षेत्र की फोर्स जिसमें कोतवाल मुहम्मदाबाद सहित अन्य पुलिस मिश्रपुरा गांव पहुंचे। अतिक्रमणकारियों द्वारा इस हमले में मौके पर मौजूद स्थानीय लेखपाल यतीश दुबे सहित अरुणेंद्र कनौजिया व शराफत अली को चोटें आई व इनके सरकारी कागजात बस्ता आदि गायब हो गया है। इसके पूर्व शनिवार को भी इस गांव में सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने का कार्य किया गया था उस दौरान भी लोगों में गुस्सा था लेकिन कोई विरोध नहीं कर सका।दूसरे दिन जब शेष बचे अतिक्रमणकारियों से सरकारी जमीन को कब्जे को छुड़वाने हेतु ध्वस्तीकरण का कार्य शुरू हुआ सरकारी कर्मचारियों व जेसीबी चालक पर हमला बोल दिया गया। मौके पर पहुंचे तहसीलदार मुहम्मदाबाद के द्वारा दूसरी जेसीबी मंगाकर ध्वस्तीकरण का कार्य कराया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here