गाजीपुर-अधुरा रहा विकास का सपना, निर्वाचित प्रधान की मौत

गाजीपुर-बिलंब से प्राप्त सुचना के अनुसार सैदपुर थानाक्षेत्र के चकिया नेवादा की नवनिर्वाचित महिला ग्राम प्रधान की बीमारी के चलते उपचार के दौरान मौत हो गयी। जिसके बाद गांव में शोक की लहर दौड़ गयी। वहीं परिजनों में कोहराम मच गया। गांव निवासिनी बिंदु देवी आयु 50 वर्ष पत्नी शिवराम राजभर बिगत दिनों हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव मे अबकी बार ग्राम प्रधान चुनी गई थीं। उनके लिवर में संक्रमण के चलते करीब 15 दिनों से उनकी तबियत खराब चल रही थी। जिसके चलते उनका उपचार वाराणसी के बीएचयू में चल रहा था। इस बीच शुक्रवार को उनकी तबियत बिगड़ गई और उनकी मौत हो गयी। जिसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया। इधर सूचना के बाद गांव में शोक की लहर दौड़ गयी। सभी का रो-रोकर बुरा हाल था। उनका अंतिम संस्कार शनिवार को किया गया। मृतका अपने पीछे 4 संतान छोड़ गई है। मुखाग्नि पति शिवराम ने दिया। बीमार होने के बावजूद गांव के विकास का सपना देखने वाली मृतका बिंदु ने उसी हाल में शपथ भी लिया था। वहीं प्रधान की मौत के बाद अब पुनः चुनाव कराने को लेकर संभावित प्रत्याशी एक बार फिर से तैयारी करने में जुट गए हैं। लेकिन उनके निधन से ग्रामीणों में शोक है। इस बाबत बीडीओ दिनेश मौर्य ने बताया कि प्रधान ने शपथ ग्रहण के बाद पहली बैठक भी कर ली थी। बताया कि निधन के बाबत आयोग को सूचना दे दी गयी है। निर्देशानुसार ही कुछ होगा।सौ०शताब्दी न्यूज डाट काम

Also Read:  गाजीपुर-बैंक में चौथी बार चोरी, लापरवाह प्रबंधन