गाजीपुर-अपहरण व रेप के मामले में 20 साल की सजा

0
435

गाजीपुर-सात साल बाद नाबालिग युवती के अपहरण एवं रेप के मामले में जनपद की पास्को को कोर्ट ने आरोपी को 20 साल की सजा के साथ ही 60 हजार रूपये का और दंड भी सुनाया है। अर्थदंड नहीं देने पर 6 माह की अतिरिक्त सजा दोषी को भुगतना होगा। नोनहरा थाना क्षेत्र के युवक अर्जुन राजभर ने 7 साल पहले एक नाबालिग युवती का अपहरण कर मुम्बई ले गया और उसके साथ लगातार 15 दिनों तक रेप किया फिर उसने नाबालिग युवती को गांव के पास लाकर छोड़ दिया और फरार हो गया। इस मामले में नाबालिग युवती की परिजनों द्वारा अपहरण व रेप का मामला नोनहरा थाने में दर्ज कराया गया। इस मामले में पुलिस ने न्यायालय में वाद प्रस्तुत करने के साथ ही साक्ष्य प्रस्तुत किया। जिसकी सुनवाई जनपद पास्को कोर्ट के न्यायाधीश जयप्रकाश द्वारा किया गया।जिसमें पास्को कोर्ट नंबर 1 द्वारा सोमवार को अभियुक्त अर्जुन राजभर को 20 साल की सश्रम कारावास और 60 रुपये का अर्थ दंड सुनाया गया। मामले में विशेष लोक अभियोजक अनुज राय ने बताया कि मामला 20 जून 2013 का है जब आरोपी अर्जुन राजभर गांव की एक नाबालिग लड़की का अपहरण कर मुम्बई ले गया और उसके साथ करीब 15 दिनों तक लगातार बलात्कार किया। अपहरण के 15 दिन के बाद उसको गांव के पास लाकर छोड़ कर आरोपी वापस मुम्बई भाग गया। इसके बाद नाबालिग के परिजनों ने अर्जुन राजभर के खिलाफ धारा 363 धारा 366 धारा 376 धारा 506, 3/ 4 और 5/ 6 और एससी एसटी का मुकदमा दर्ज कराया गया। कोर्ट ने आरोपी को दोषी पाते हुए 20 साल की कारावास और 60 हजार अर्थदंड की सजा सुनायी। अर्थदंड अदा न करने पर 6 माह का अतिरिक्त सजा भुगतने का भी निर्णय दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here