गाजीपुर-अब भुगतेगा 4 साल जेल की सजा

गाजीपुर-विशेष न्यायाधीश एससी/एसटी एक्ट चंद्रप्रकाश तिवारी की अदालत ने मंगलवार को युवती के साथ छेड़खानी के मामले में थाना मरदह के गांव बोगना निवासी मुनीब उर्फ लुसुर चौहान को 4 साल की कैद व 11 हजार रुपये के अर्थदंड से दण्डित किया है।

अभियोजन के अनुसार मरदह थाना गांव बोगना निवासी गोविंद ने थाने में यह तहरीर दिया कि उसकी लड़की 14 अप्रैल 2011 को सुबह गेंहू की कटाई करने अपने खेत में गई थी। उसी समय गांव के ही  मुनीब उर्फ लुसुर उसकी लड़की को पकड़कर छेड़खानी करने लगा। लड़की के शोर मचाने पर उसकी भाभी व गांव के लोग पहुच गए।मुनीब मेरी लड़की को जाती सूचक शब्दों से अपमानित करते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गया। थाने में सूचना दी लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नही किया। तब वादी ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया, न्यायालय के आदेश पर आरोपी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया। विवेचना उपरांत पुलिस ने आरोपी के खिलाफ न्यायालय में आरोप पत्र प्रस्तुत किया। दौरान विचारण अभियोजन की तरफ से विशेष लोक अभियोजक प्रदीप चतुर्वेदी ने कुल 4 गवाहों को पेश किया। सभी गवाहों ने अपना- अपना बयान न्यायालय में दर्ज कराया। दोनो तरफ की बहस सुनने के बाद न्यायालय ने उपरोक्त सजा सुनाई।

Also Read:  अयोध्या-150 महानगरों के मेयर 18 को करेंगे रामलाल का दर्शन