गाजीपुर-अब 18 जून तक बनेगा आयुष्मान कार्ड,लक्ष्य तय

गाजीपुर-आयुष्मान भारत योजना जो भारत सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। जिसमें लाभार्थी को ₹5 लाख तक का निशुल्क इलाज दिया जाता है। जिसके लिए लाभार्थी परिवार को आयुष्मान कार्ड बनवाना अनिवार्य होता है। पिछले महीने 4 मई से 18 मई तक आयुष्मान कार्ड विशेष पखवाड़ा चला जिसमें जनपद गाजीपुर प्रदेश में पहला स्थान लाया।। वही अब आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए 18 जून तक विशेष कैंप लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाए जाने का निर्देश दिया गया है।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं नोडल आयुष्मान भारत योजना डॉ डीपी सिन्हा ने बताया कि अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण उत्तर प्रदेश के द्वारा एक पत्र भेजकर 4 मई से 31 मई तक विशेष आयुष्मान पखवाड़ा चलाया गया । लेकिन उक्त अवधि के मध्य शत प्रतिशत आयुष्मान कार्ड नहीं बन पाया। जिसको लेकर इस तिथि को 10 जून तक बढ़ाया गया। इस दौरान भी आयुष्मान कार्ड पूरे नहीं बन पाए वही अब इसे बढ़ाकर 18 जून कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में जो आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं वह जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह की देखरेख में बनाए जा रहे हैं। जिसकी मॉनिटरिंग खुद कर रहे हैं। कमी मिलने पर कई लोगों को दंडित भी कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि उनकी मानिटरिंग की वजह से मौजूदा समय में गाजीपुर जनपद प्रदेश में पांचवा स्थान आयुष्मान कार्ड बनाने में है।

डॉ सिन्हा ने बताया कि 18 जून तक आयुष्मान कार्ड बनाए जाने की तिथि बढ़ाने के बाद कई विभागों के लक्ष्य भी निर्धारित कर दिए गए हैं। जिसमें जिला पूर्ति अधिकारी 33000, अधिशासी अधिकारी प्रत्येक नगरपालिका 1000, अधिशासी अधिकारी प्रत्येक नगर पंचायत 500, प्रत्येक खंड विकास अधिकारी 2500 एवं प्रत्येक अधीक्षक एवं प्रभारी चिकित्सा अधिकारी 2500 आयुष्मान कार्ड बनाए जाने हैं। जिसकी समीक्षा जिला अधिकारी के द्वारा प्रत्येक 3 दिन पर किया जाएगा। जो भी अधिकारी शत-प्रतिशत लक्ष्य समय अंतर्गत या उससे पहले प्राप्त कर लेंगे उनको आयुष्मान कार्ड बनाए जाने के कार्य से मुक्त भी कर दिया जाएगा।