गाजीपुर-अभी भी समय है पंजीकरण करावें और लाभ उठायें

गाजीपुर 03 जनवरी 2022- असंगठित क्षेत्र के कामगारों के लिये अच्छी खबर है। अभी तक वंचित रहे असंगठित श्रेणी के कामगारों को अब सामाजिक सुरक्षा का लाभ मिल सकेगा, जिसमें इस तरह के श्रमिकों व उनके परिवार के सदस्यों को दो लाख रूपये तक जीवन बीमा कवर दिलाया जायेगा, साथ ही ये श्रमिक व उनके परिवार के सदस्य मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत पाँच लाख रूपये तक का कैशलेश इलाज निःशुल्क करा सकेंगे। प्रदेश की योगी सरकार असंगठित क्षेत्र के लिये श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिये यह योजना लेकर आयी है। जनपद स्तर पर स्कीम के क्रियान्वयन का जिम्मा श्रम विभाग को सौंपा गया है।

इसी क्रम में आज दिनांक 03.01.2022 को मध्याह्न 12ः00 बजे ई-श्रम पोर्टल तथा बी0ओ0सी0डब्लू पोर्टल पर प्रदेश के पंजीकृत असंगठित क्षेत्र के 1.1 करोड़ कामगारों को मा0 मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यानाथ के कर-कमलों द्वारा लाईव प्रसारण के माध्यम से कोरोना वायरस (कोविड-19) के दृश्टिगत भरण-पोषण भत्ता माह-दिसंबर, 2021 व जनवरी, 2022 दो माहों का प्रथम किस्त के रूप में रूपये 500 प्रतिमाह की दर से प्रत्येक श्रमिक को रूपये 1000 हजार सीधे उनके आधार से लिंक बैंक खाते में अंतरित कर दिया गया।

रायल पैलेस, वंशीबाजार, गाजीपुर में कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया, जिसमें जनपद के सुदूर क्षेत्र से आये लगभग-1000 असंगठित कामगारों द्वारा प्रतिभाग किया गया। सभी श्रमिक शासन की इस योजना से प्रसन्न थे एवं सरकार को धन्यवाद दे रहे थे।

श्रम प्रवर्तन अधिकारी, लईक अहमद द्वारा बताया गया कि ई-श्रम पोर्टल एवं बी0ओ0सी0डब्लू0 पोर्टल पर पंजीकृत जनपद के लगभग-11 लाख कामगारों को मा0 मुख्यमंत्री जी के कर-कमलों द्वारा माह-दिसंबर, 2021 व जनवरी, 2022 का भरण-पोषण भत्ता प्रदान किया गया है एवं आगामी दो माहों माह-फरवरी, 2022 व मार्च, 2022 का भरण-पोषण भत्ता भी द्वितीय किस्त के रूप अंतरित किया जायेगा। अपील किया कि ई-श्रम पोर्टल पर 16 वर्ष से 59 वर्ष आयु मध्य के असंगठित कामगार अपना पंजीयन अधिक से अधिक करावें, जिससे उनको संचालित योजनाओं से लाभान्वित किया जा सके।

असंगठित क्षेत्र के लिये लायी गयी सामाजिक सुरक्षा योजना के अंतर्गत हॉकर से लेकर वजन ढोने वाले कुली तक को शामिल किया गया है। इसके आलावा विभिन्न तरह के कार्य करने वाले कर्मकारों को इस योजना से लाभान्वित कराया जायेगा। जिसमे समाचार पत्र वितरक, धोबी, दर्जी, माली, मोची, नाई, बुनकर, जुलाहा, रिकशा चालक, घरेलू कर्मकार, कूड़ा बीनने वाले, हाथ ठेला चलाने वाला, फुटकर सब्जी विक्रेता, फल-फूल विक्रेता, चाय, चाट, ठेला लगाने वाले, फुटपाथ व्यापारी, कुली, जनरेटर/लाईट उठाने वाले, कैटरिंग में कार्य करने वाले, फेरी लगाने वाले, मोटर साइकिल/साइकिल मरम्मत करने वाले, गैरेज कर्मकार, परिवार में लगे कामगार, ढोल बजाने वाले, पशुपालन, मत्स्य, मुर्गी, बत्तख पालन में लगे लोग आदि कामगार अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

इस अवसर पर नगर पालिका परिषद, गाजीपुर की चेयरमैन मा0 सरिता अग्रवाल, जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह, मुख्य विकास अधिकारी, श्रीप्रकाश गुप्ता, डी0सी0 मनरेगा, श्रम प्रवर्तन अधिकारी, पंचेश्वरी, सीएससी के जिला प्रबंधक संचालक तौशीफ, श्रम विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, आदि उपस्थित रहे। किसी भी पूछताछ हेतु कार्यालय समय में श्रम प्रवर्तन अधिकारी, गाजीपुर लईक अहमद के मोबाइल नंबर-9415991215 पर संपर्क कर सकते हैं।