गाजीपुर-आंगनबाडियों का 21वें दिन भी धरना जारी

नि0प्र0)

आर0टी0आई0परिसर में आंगनबाड़ी कर्मचारी एवं सहायिका एसोसिएसन से जुड़ी कार्यकर्तीयो एवं सहायिकाओं ने आज लगातार 21वे दिन काम बंद कलाम बन्द हड़ताल जारी रखा।

धरने को संबोधित करते हुए नगर  अध्यक्ष संजू यादव ने कहा कि हमे अपना हक पाने के लिए संघर्ष करते हुए 21 दिन हो चुका है लेकिन प्रदेश में सत्ता रूढ़ सरकार कान में तेल डाल कर कुमकरण की नीद सो रही है लेकिन हम अपने संघर्ष से सरकार को नीद से जगा कर रहेंगे।

जिला कार्यवाहक अध्यक्ष रेखा पासवान ने कहा कि परोशी राज्य दिल्ली में दस हजार और उत्तराखंड सरकार कार्यकार्तियो को 7000 रुपये मानदेय दे सकती है लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार किसान ऋण माफी का बहाना ले कर हमारी मानदेय बृद्धि की मांग को लटकाए हुए है। लेकिन मानदेय बृद्धि तक हमारा काम बन्द कलम बन्द हड़ताल जारी रहेगा।

नगर माह मंत्री शिला देवी ने कहा कि हमारी कुछ बहने घरो में बैठ कर तमासा देख रही है। उन्हें इतिहास कभी माफ नही करेगा।

करण्डा ब्लाक अध्यक्ष नीलम सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार हमारी जायज मानगो को लेकर कमेटी -कमेटी का खेल खेल रही है।लेकिन हम सरकार के इस खेल को हम अच्छी तरह से जान गए है।सरकार हमारे धैर्य की परीक्षा ना ले वरना हम 27 सितम्बर 2016 का इतिहास दोहराने को तैयार है।

जिलासंरक्षक सूरज प्रताप सिंह ने कहा कि योगी सरकार के पास राज्य कर्मियों को बोनस देने के लिए पैसा है लेकिन हम बहनो को देने के लिए इनके पास नही है ।

इस लिए आज हमारी आंगनबाड़ी बहनो को दीवाली मानने के लिए भीख मांगना पर रह है।

धरने में शामिल सभी बहनो को जिलाध्यक्ष आशा पटेल ने धन्यवाद दिया।

धरने में कृष्णा श्रीवास्तव ,रचना सिंह, सीमा,सुनीता,संगीता,गीता,शबाना,साजिदा,नाजमीन,कंचन,रिंकू,रीता,सविता,रीना,सीमा,संयोगिता,रूबी,अनिता,निशा,विमला, आदि सैकड़ो कार्यकार्तिया उपस्थित थी।