गाजीपुर-उनके बिना,उनके घर जाना

गाजीपुर-अपने गनर सुनील कुमार बिंद के आकस्मिक निधन के उपरांत उनके घर उनके गृह जनपद मिर्जापुर पहुची।माँ, पत्नी, बच्चे, पिता,भाई बहन सब बेसुध थे।उनका दर्द असहनीय था। हमेशा मेरे साथ ड्यूटी में रहने वाले गनर सुनील की माँ और उनकी विधवा मेरे जाने पर मेरे साथ अपने बेटे और पति को ढूंढने लगी परंतु काल उसे अपने साथ ले जा चुका था। लगभग साढ़े 3 वर्ष तक सुनील हमारे साथ ड्यूटी किए ।एक कार्यक्रम के दौरान एक बार सुनील के साथ उनके घर भी जाना हुआ था परंतु आज जब दोबारा उनके घर गई तो यह कभी नही सोचा था कि बिना सुनील के ही जाना पड़ेगा वह भी उनके निधन पर ।सुनील बहुत ही सरल स्वभाव के व्यक्ति थे। किसी के दुख को खत्म तो नहीं किया जा सकता परंतु इस दुखद घड़ी में उनके परिवार के साथ मैं पूरी तरह से खड़ी हूं। उनके घर जाने वालों में साथ में हरदो पट्टी भदोही की प्रधान श्रीमती अनीता बिन्द ग्राम प्रधान सराय शरीफ अनूप गुप्ता महाराजगंज ग्राम प्रधान नंदू पासी,सूबेदार यादव,मुनीब राम, संजय कुमार बिंद अनूप खरवार चंदन कुशवाहा विकास बलवंत ,फूलचंद बिन्द इत्यादि लोग उपस्थित थे।( विधायक संगीता बलवंत के फेसबुक वाल से)