गाजीपुर-ऐय्याशी, कर्ज,हत्या और हत्यारोप में गिरफ्तारी

गाजीपुर- महीनों बाद आई बिसरा रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने पर मंगलवार को थाना पुलिस ने क्षेत्र के दुर्खुशी गांव निवासी लोकगीत गायक के हत्यारोपी महिला सहित दो लोगों को गिरफ्तार कर अभियुक्तों का संबंधित धाराओं में चालान कर दिया।

मरदह थानाध्यक्ष राजकुमार यादव ने बताया 18 जुलाई 2019 को दुर्खुशी गांव निवासी लोकगीत गायक संजय उर्फ संजीव राम की केलही गांव निवासी हारमोनियम वादक अशोक राम के घर पर रात करीब 8 बजे संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हो गई थी। अशोक राम ने संजीव के परिजनों को विद्युत करेंट से मृत्यु होंने की सूचना दी थी। संदेह होने पर मृतक के पिता देवनंदन राम ने प्रार्थना पत्र देकर शव का पोस्टमार्टम करवाया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु कारण सपष्ट नहीं आने पर बिसरा जांच के लिए भेजा गया था। बिसरा की जांच रिपोर्ट आने पर विषाक्त पदार्थ से मृत्यु होने की पुष्टि हुई। इस पर आज सुबह क्षेत्र के करदह कैथवली चट्टी के पास से हत्यारोपी अशोक राम पुत्र रामलाल राम निवासी केलही और उसकी महिला मित्र कुसुम देवी पत्नी अच्छेलाल निवासी कंचनपुर थाना दुल्लहपुर को गिरफ्तार किया गया। एसओ ने बताया कि हत्यारोपी महिला कुसुम देवी का मायका दुर्खुशी गांव में था, जिससे उसका संजय से घनिष्ठ संबंध था। संजय के साथ उसका हारमोनियम वादक कुसुम के घर आता-जाता था, जिससे उसका भी कुसुम से अच्छा संबंध हो गया। कुसुम को संजय ने एक लाख बीस हजार रुपया कर्ज दिया था, जिससे वह अपना घर बनवा ली थी। जब संजय उससे अपना पैसा मांगता थागा तो कुसुम को नागवार लगता था। इस पर उसने अशोक राम के साथ मिलकर संजय को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। 18 जुलाई 2019 को संजय को केलही गांव अपने घर बुलाकर शराब मिश्रित विषाक्त पदार्थ पिला दिया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। अभियुक्तों का संबंधित धाराओं में चालान कर दिया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में एसओ के साथ विनय कुमार, रंजीत कुमार, ज्योती कुमारी आदि पुलिस कर्मी शामिल रहे।

Also Read:  गाजीपुर-फर्जी सार्टिफिकेट पर खुब खाया मलाई,अब हुई बिदाई