गाजीपुर-काले कृषि कानूनों की वापसी बीजेपी की हार और देश की जीत है-सुनील राम

गाज़ीपुर। काले कृषि कानूनों को आखिर कार इस बीजेपी की अहंकारी सरकार को वापस लेना पड़ा, ये देश के साथ अन्नदाताओं की जीत है, ये बातें आज कांग्रेस कमेटी के सिटी रेलवे स्टेशन कार्यालय गाज़ीपुर में जिलाध्यक्ष सुनील राम और सुनील साहू ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व० श्रीमती इंदिरा गांधी के जन्मदिन के अवसर पर संयुक्त रूप से कही। इस दोहरी खुशी के अवसर पर जिला काँग्रेस कमेटी के सदस्यों और पदाधिकारियों ने आपस में मिठाई खिलाकर खुशी मनाई और इसे बीजेपी के अहंकारी सरकार की हार बताते हुए इसे अन्नदाताओं के साथ देश की जीत बताया और कहा कि ये आंदोलन जबतक कानून संवैधानिक ढंग से समाप्त नहीं हो जाता तबतक नहीं रुकेगा, क्योंकि ये सरकार झूठ बोलकर विश्वासघात भी करती है।

Also Read:  गाजीपुर-गरीब परिवार पर टुटा दुखों का पहाड़

जिलाध्यक्ष सुनील राम ने कहा कि कृषि कानूनों में बदलाव कर उद्योगपतियों को फायदा पहुचने का उद्देश्य अन्नदाताओं के साथ कांग्रेस ने भी भांप लिया था और किसानों के साथ काँग्रेस ने हमेशा इस काले कानून का विरोध किया है और गलत नीतियों का विरोध सड़क से सदन तक काँग्रेस करती रहेगी।

इस मौके पर शहर अध्यक्ष सुनील साहू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राष्ट्र के नाम संबोधन में पिछले करीब एक साल से विवादों में घिरे तीन कृषि कानूनों को वापस लिए जाने की घोषणा कर दी, पीएम मोदी का ये फैसला श्रीमती गांधी की जयंती पर लिया गया है जो कांग्रेस के साथ किसानों की भी जीत है, कांग्रेस के प्रवक्ता अजय कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि पिछले एक साल से जारी किसानों के साथ कांग्रेस के शीर्ष नेताओं का संघर्ष काम आया, उन्होंने कहा कि सशक्त, समर्थ नेतृत्व और अद्भुद प्रबंधन क्षमता की धनी और भारत को एक सशक्त देश के रूप में स्थापित करने में अहम भूमिका रखने वाली देश की प्रथम महिला पीएम श्रीमती इंदिरागांधी जी की जयंती पर आज हम सब उन्हें कृतज्ञता पूर्वक शत शत नमन करते हैं, इस दिन कृषि क़ानून की वापसी देश कि जनता की जीत है और अहंकार की हार है।

Also Read:  गाजीपुर-जंगीपुर थानाध्यक्ष पर एडीजी कुपित

इस अवसर पर कांग्रेसजनों ने श्रीमती गांधी की रोडवेज परिसर स्थित प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यालय में एक गोष्ठी भी आयोजित की और पूर्व प्रधानमंत्री जी के सिद्धांतों पर चलने का संकल्प दोहराया। इस अवसर पर प्रमुख रूप से पूर्व शहर अध्यक्ष शफीक अहमद, राजेश गुप्ता ,मंसूर जैदी, सतीश उपाध्याय, मनीष राय, शबीहूल,आशुतोष गुप्ता, ओम प्रकाश पांडे, अनुराग पांडे, अभय गुप्ता ,महबूब निशा, ज्ञान सिंह मुन्ना, अमरनाथ यादव ,कैलाशपति कुशवाहा ,ज्यूत यादव आदि लोग उपस्थित रहे ।

Also Read:  गाजीपुर-लूटेरों को लूटना ही एकमात्र विकल्प है