गाजीपुर-किसान आंदोलन के खिलाफ मिडिया मे भ्रामक प्रचार करवा रही है सरकार-राजेन्द्र यादव

गाजीपुर- मरदह स्थित महाहर धाम शिव मंदिर परिसर में शुक्रवार को संयुक्त किसान मोर्चा के आवाह्न पर ब्लाक कमेटी की तरफ से अखिल भारतीय किसान सभा की मासिक बैठक का आयोजन किया गया।जिसमें संगठन की मजबूती पर बल देते हुए प्रांतीय महामंत्री पूर्व विधायक राजेन्द्र यादव ने 27 सितम्बर को भारत बंंद,21 अक्टूबर को किसान महापंचायत को सफल बनाने हेतु तैयारी पर विस्तार पूर्वक प्रकाश डालते हुए कहा कि आज देश का किसान दिल्ली के बार्डर पर 9 महीने से आन्दोलनरत हैं तीन काले कृषि कानून को रद्द करने एवं एमएसपी की गारंटी के लिए पूरे देश में जगह जगह जिलों में बड़े पैमाने पर किसान पंचायत आयोजन हो रहा है।लेकिन देश की गुंगी बहरी सरकार जिद्द पर अड़ी हुई है।देश का पैसा विज्ञापन और मीडिया पर खर्च करके आन्दोलन के खिलाफ भ्रामक प्रचार करवा रही है।बढ़ती हुई महंगाई डीजल पेट्रोल,रसोई गैस,खाद्द बीज,के मूल्यों में वृद्धि हो रही है जिससे आवश्यक वस्तुओं के दाम आसमान छूने लगे हैं,महंगाई की मार आम जनता झेलने को मजबूर है,मजदूर किसान एवं श्रमिकों में रोजी-रोटी की समस्या मुंह बाए खड़ी हो गई है।इस महंगाई के दौर में जहां राज्य कर्मचारियों केंद्र कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में वृद्धि हो रही है वही लाचार किसान विधवा विकलांग की पेंशन में कोई वृद्धि नहीं हो रही है। इसके प्रति सरकार लापरवाह हो गई है केवल वोट के समय ही इनका ध्यान आता है फिर तो यह लोग इनके नेटवर्क से गायब हो जाते हैं।किसानों के लिए खाद बीज महंगे होते चले जा रहे हैं और बिजली भी महंगी होती जा रही है किंतु किसान सम्मान निधि जस की तस बनी हुई है इनमें भी तो बढ़ोतरी होनी चाहिए आखिर किसान चौतरफा मार झेल रहा है इनके पेंशन की भी कोई व्यवस्था नहीं है।सरकार को चाहिए महंगाई को कंट्रोल करें और किसानों बेरोजगारों विधवा विकलांग वृद्धा पर विशेष ध्यान केंद्रित करें।इस मौके पर पूर्व विधायक राजेन्द्र यादव,राधेश्याम यादव,शैलेश यादव, अनिल यादव,संतोष चौहान,सुरेन्द्र राम,रामनरायण यादव, शशीधर सिंह,जिलाध्यक्ष जनार्दन राम, राजेन्द्र राजभर, दीनानाथ राम,रामलाल राम,राजदेव यादव, रामकेर यादव, राजीव सिंह,अंगद यादव,संजय राम,विश्वनाथ यादव, अशोक मिश्रा,घूरा यादव,महेन्द्र सिंह,रामबदन सिंह, दीनानाथ सिंह,विक्रमा सिंह यादव, दुर्गविजय यादव, चन्द्रदेव राम,अशोक यादव,वीरेन्द्र यादव, चन्द्रशेखर यादव, रामबचन विन्द,शिवलाल यादव, आदि लोग मौजूद रहे।