गाजीपुर-कोटेदार के खिलाफ फूटा आक्रोश, ग्रामीण सड़क पर बैठे

गाजीपुर- राशन वितरण में मनमानी को लेकर कोटेदार के खिलाफ शनिवार को मनिहारी क्षेत्र के सराय मानिक गांव के लोगो का गुस्सा फूट पड़ा। आक्रोशित लोग कोटेदार की दुकान पर पहुंच गए और हो-हल्ला करते हुए दुकान के सामने गांव के संर्पक मार्ग पर बैठकर धरना-प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान सप्लाई इंस्पेक्टर द्वारा कोटेदार का रजिस्टर, फिंगर मशीन को जप्त करने और कार्यवाही का आश्वासन देने पर घंटों बाद ग्रामीण शांत हुए।

धरना-प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा कि कोटेदार विगत कुछ महीनों से वितरण में मनमानी कर रहा है। विकास खंड मनिहारी के सराय मनिक राज ग्राम पंचायत मे विगत वर्षों से सरकारी वितरण प्रणाली में कोटेदार की मनमानी हावी है। इसको लेकर ग्रामीण जब भी हो हल्ला मचाते है, दो-चार को खाद्यान्न देकर चुप करा देता है। कई ग्रामीणों ने इसकी शिकायत तहसील प्रशासन व पूर्ति अधिकारी से भी किया, लेकिन अधिकारियों की सांठ-गांठ के चलते उसके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हुई। इससे कोटेदार का हौसला दिनोदिन बढ़ता ही गया। इधर वह तीन माह से पात्र गृहस्थी वाले कार्डधारकों को खाद्यान्न देना ही बंद कर दिया। इस मनमानी को लेकर आज ग्रामीणों को धरना-प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होना पड़ रहा है। जब तक कोटेदार के खिलाफ कार्यवाही नहीं हुई, तब तक धरना-प्रदर्शन जारी रहेगा। सूचना मिलने पर सप्लाई इंस्पेक्टर मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों से बातचीत करते हुए मामले की जानकारी ली। उन्होंने कोटेदार का रजिस्टर और फिंगर मशीन को जप्त कर लिया। ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि कोटा बर्खास्त किया गया है। इस पर ग्रामीण शांत हुए चार घंटा बाद धरना-प्रदर्शन समाप्त किया। इस मौके पर प्रधान कमलेश राम, भीम आर्मी के मंडल अध्यक्ष विनय सागर सहित दर्जनों महिला-पुरुष मौजूद रहे।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store