गाजीपुर-खुनी होती जखनियां की जंग

गाजीपुर-ब्लाक प्रमुख चुनाव के दौरान गाना गा कर शोसल मिडिया पर वायरल करने से नाराज़ दबंगों ने गायक पियुष यादव को रविवार की सुबह 10 बजे जखनियां बाजार से उठा लिया और भुड़कुड़ा थाना क्षेत्र के एक के अहाता में ले जाकर दर्जनों लोगों ने राड,डंडा,बेल्ट आदि से पिटाई करने लगे।इस दौरान पियूष यादव बेहोश हो गया और उसके मुंह और नाक से रक्त स्राव होता रहा।फिर भी आता ताइयो को दया नहीं आई ,पानी छीड़क कर लगभग तीन घंटे तक निर्मम पीटाई करते रहे।और अंत में अधमरा समझ कर बेहोशी के हालत में दोपहर लगभग दो बजे जखनियां दक्षिणी केबिन के पास छोड़कर चले गए।और धमकी दिए की यदि पुलिस को सूचना दिए तो जान से मार देंगे।

इसकी सूचना परिजनों द्वारा पूर्व ब्लाक प्रमुख सादात संतोष यादव को दी गई तब वह रात 7 बजे पीड़ित के घर पहुंचे।उसके नाज़ुक हालत को देखते हुए इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सादात में भर्ती करवाये तथा इसकी सूचना प्रशासन को दिये,तब रात्रि लगभग 12 बजे भुड़कुड़ा कोतवाल पहुंचकर पियुष का बयान लिए। रिश्तेदार से तहरीर लिखवाकर ले गए।जब लोगों ने दो अन्य लोगों नाम लेने लगे तो वह डांट कर चुप करा दिए।और कोई कार्रवाई नहीं की गई।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सादात से सदर हास्पिटल रेफर होने के दौरान जब हम लोग डा.संतोष कुमार यादव पूर्व ब्लाक प्रमुख सादात के साथ पुलिस अधीक्षक के पास गए तो उन्होंने सीओ सीटी को हमारा प्रार्थना पत्र लेने के साथ ही दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए आदेशित किया।पीड़ित पीयूष यादव के माता-पिता ने एसपी सीटी से कहा कि मेरा परिवार पूरी तरह से आतंकित तथा भयग्रस्त हैं।उपरोक्त दोषियों से जो मेरे बेटे को जान से मारने की नीयत से उठा कर ले गये और मारे पीटें,पिस्टल व फावड़ा से हत्या करने की धमकीं दिये उनके खिलाफ कठोरतम कानूनी कार्रवाई करते हुए हमारे जान माल की सुरक्षा की जाये।इसके साथ ही डा.संतोष यादव ने पुलिस अधीक्षक डा.ओमप्रकाश सिंह एवं जिलाधिकारी गाजीपुर को लिखित प्रार्थना पत्र देकर अपने जान माल की सुरक्षा हेतु स्थाई सरकारी सुरक्षा गार्ड की मांग की और उन्होंने पिड़ितो को न्याय दिलाने की भी मांग किया। जाय।