गाजीपुर-गये थे ज्ञापन देने, हुए गिरफ्तार

0
1946

गाजीपुर-0 7 अक्टूबर को 2020 को समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष रामधारी यादव के नेतृत्व में जनपद की स्थानीय समस्याओं को लेकर 9 सूत्री ज्ञापन जिलाधिकारी महोदय को तय कार्यक्रम के अनुसार सरजू पांडेय पार्क में देने पार्टी कार्यालय समता भवन से निकले थे लेकिन जिलाधिकारी महोदय ने तानाशाही और अलोकतांत्रिक तरीके से ज्ञापन लेने से मना कर दिया । ज्ञापन न लेने के विरोध में कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए, तत्पश्चात पुलिस ने कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी कर पुलिस लाइन ले गयी । पुलिस से हुई गिरफ्तारी पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए जिलाध्यक्ष रामधारी यादव ने कहा यह पुलिस का अलोकतांत्रिक और अन्यायपूर्ण कदम है । जिला प्रशासन हमारी समस्याओं को सुनने के लिए भी तैयार नहीं है । हम गांधीवादी तरीके से शांतिपूर्वक जिलाधिकारी महोदय को अपना ज्ञापन देना चाहते थे लेकिन लोकतंत्र में जनता की बात को अनसुना कर पुलिस के बल पर कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी ब्रिटानी हुकूमत की याद दिला रही है, उत्तर प्रदेश सरकार के इशारे पर जिला एवं पुलिस प्रशासन का यह दमनकारी रवैया बहुत ही निंदनीय है ।।उन्होने कहा कि जनहित में हमारा संघर्ष जारी रहेगा, पुलिस की लाठी, गोली और उनकी जेल से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता डरने वाले नहीं हैं और न हीं उससे डरकर हमारा संघर्ष रुकने वाला है । जनहित में हमारा संघर्ष जारी रहेगा ।
गिरफ्तार होने वाले कार्यकर्ताओं में मुख्य रूप से जिलाध्यक्ष रामधारी यादव,
पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा, बजरंगी यादव,सत्येन्द्र यादव, अरुण कुमार श्रीवास्तव, डॉ समीर सिंह, दिनेश यादव,अमित सिंह लालू, कमलेश सिंह भानु, सिकन्दर कन्नौजिया, चंदन यादव,तहसीन अहमद, जय हिन्द यादव,आमिर अली, अशोक बिन्द, कन्हैयालाल विश्वकर्मा,अभिनव सिंह, राकेश यादव, कमलेश बिन्द, रामाशीष,नन्हे, राहुल सिंह, सुखपाल यादव,लल्लन राम, राजेश यादव,आजाद राय, आशा यादव,विभा पाल,कन्हैया यादव, देवेन्द्र यादव,केदारनाथ सिंह यादव,रिषु यादव,रामासीष सिंह यादव, नितीश खरवार, राजीव कुमार अमन गोस्वामी,यादव, शैलेन्द्र यादव पिंकू,शिवरतन पाल, अशोक यादव, रजनीकांत यादव, नन्दलाल यादव, हरिकेश यादव, थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here