गाजीपुर-जयंती पर छात्रनेताओं ने जनपद के महान नेता को किया नमन

447

गाजीपुर-19 नवंबर 22-आज स्वाधीनता सेनानी पूर्व सांसद सरजू पांडेय की जयंती पर शनिवार को सरजू पांडेय पार्क मे छात्रनेताओं ने उनकी प्रतिमा व चबूतरे पर साफ-सफाई कर उनके प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नमन किया । इस अवसर पर सभी ने उनकी समाधि स्थल पर पुष्पांजलि एवं प्रतिमा पर माल्यार्पण किया । सरजू पान्डेय जी 1957 में एक साथ रसड़ा लोकसभा व मुहम्मदाबाद विधानसभा से एक साथ दोनों चुनाव जीते थे।पान्डेय जी 1967 तक लगातार अपने बूते सांसद बनते रहे।1971 में इन्दिरा गांधी के समर्थन से लोकसभा का चुनाव जीता लेकिन 1977 में इन्दिरा गांधी विरोधी लहर मे हार गये फिर कभी सांसद नहीं बने।

समाजसेवी व पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय ने कहा कि सरजू पांडेय जी की जयंती शताब्दी वर्ष के रूप में हम सभी मना रहे हैं।सरजू पाण्डेय जी ने अंग्रेजी दास्ता की बेड़ियों को तोड़ने के लिए स्वतंत्रता आंदोलन में देश भक्ति की भावना से ओत-प्रोत होकर कूद पड़े थे। 15 अगस्त 1942 को हजारों की हुजूम के साथ कासिमाबाद थाना फूंक कर तिरंगा फहरा दिया था। आजादी के बाद जमींदारी उन्मूलन एवं सामंती उत्पीड़न के विरुद्ध संघर्ष किया। इनके पीछे उत्पीड़ित, शोषित जनता लामबंद हो गई थी। ये अपने दौर के बेमिसाल नेता रहे हैं। छात्र नेता शशांक उपाध्याय ने कहा कि सरजू पाण्डेय जी का बेदाग चरित्र, चमकदार दामन था। सबसे बड़ी बात तो यह थी कि राजनीति को नि:स्वार्थ भाव से त्याग, तपस्या, समाजसेवा का क्षेत्र का मानते थे। अपने संघर्षों से इतना लोकप्रिय हुए कि विधायक व सांसद का चुनाव एक साथ ही जीत गए। उनके दिखाए मार्ग पर हम सभी युवाओं को चलना चाहिए। इस मौके पर छात्र नेता अभिषेक द्विवेदी,शिवम उपाध्याय, सुधांशु तिवारी,ओम दूबे,गोलू पाण्डेय, शैलेश यादव,शुभम, विष्णु गुप्ता, राजकुमार सिंह इत्यादि लोग मौजूद रहे।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries