गाजीपुर-जाम के झाम से जीना हुआ मुहाल

गाजीपुर- जखनिया बाजार के पुराने बस स्टैंड काली मंदिर स्थित तिराहे पर घंटो तक लगे जाम के झाम से आवागमन पूरी तरह बाधित रहा।बता दें कि पुराने बस स्टैंड तिराहे पर आए दिन जाम से आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित होता है।तिराहे पर स्थित साधन सहकारी समिति होने की वजह से यहां पर खाद उर्वरक लेने के लिए लोगों की भीड़ लगी रहती है।दूसरी तरफ यही जखनिया तहसील का मुख्य मार्ग भी हैं।शादियाबाद से जखनिया की सड़क भी इसी तिराहे से आकर मिलती है।सबसे बड़ी समस्या तो तब उत्पन्न हो जाती है जब रेलवे क्रॉसिंग का फाटक बंद हो जाता है।रेलवे फाटक बंद होते हैं वाहनों की लंबी कतारें लग जाती है इससे आवागमन बिल्कुल अवरुद्ध हो जाता है।इस जाम की खास बात तो ये रही उत्तर रेलवे क्रासिंग का फाटक खुले होने के कारण वाहनों की लंबी कतार लगी रही।जिसकी वजह से स्टेशन पर खड़ी ट्रेन को जाने के लिए भी काफी मशक्कत करनी पड़ी।रेलवे लाइन पर वाहनो की इतनी लंबी कतार लगी थी की कई बार तो रेलवे के कर्मचारी यह भी प्रयास किए की खुले फाटक पर ही हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना कर दिया जाए।लेकिन मौके पर खड़े कई लोगों ने वीडियो बनाने लगे जिस वजह से आनन-फानन में ट्रेन रोक कर और वाहनों को किसी तरह हटा कर गेट बंद कर ट्रेन को दुल्लहपुर की तरफ रवाना किया गया।जखनियां के कई सामाजिक संगठनों ने शासन प्रशासन से आवाज उठा कर मांग की कि अगर रेलवे फाटक के ऊपर से ओवरब्रिज बन जाता तो आम जनता को ऐसे मुसीबतों का सामना नहीं करना पड़ता।

Also Read:  गाजीपुर- प्रेम प्रपंच या क्यों हुई अशोक की हत्या ? गाजीपुर टुड़े