गाजीपुर-जीएसटी सचल दल के उत्पीड़न से व्यापारी त्रस्त

गाजीपुर-व्यापारियों की सुविधा के लिए सरकार के द्वारा बनाया गया GST सचल दल अब बन गया हैं व्यापारी उत्पीड़न का पर्याय इस लिए सरकार से हम सभी व्यापारी गन मांग करते हैं कि इस व्यवस्था को तत्काल समाप्त किया जाय।
1 जुलाई 2017 से लागू GST कर प्रणाली में 4 वर्षो में 900 से अधिक संशोधन के बावजूद अभी भी पोर्टल में सुधार नही हो पाया हैं ,क्यों कि GST कानून में अत्यधिक जटिलताओं और विषमताओं की भरमार हैं ।व्यापारी और व्यापार मंडल राजस्व वसूली में पूरी तरह से सरकार के साथ हैं, परंतु जो बड़ी परेशानी व्यापारी वर्ग को उत्तर प्रदेश में आती हैं वह GST सचल दल द्वारा व्यापारियों का एक अपराधी की तरह तलाशी लेना और इस तलाशी को जांच का नाम देकर व्यापारी का जबरन उत्पीड़न किया जाता है। इसी व्यवस्था को खत्म करने के लिए फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया व्यापार मण्डल शीर्ष नेत्तृत्व के आवाहन पर गाज़ीपुर जनपद के जिलाधिकारी महोदय की प्रतिनिधि PCS अधिकारी प्रतिभा मिश्रा जी के माध्यम से माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी को ज्ञापन भेजवाने का कार्य किया गया। ज्ञापन देने में फेडरेशन के संरक्षक महोदय श्री श्रीप्रकाश केशरी उर्फ गुड्डू केशरी, जिलाध्यक्ष सन्दीप गुप्ता दीपू, जिला महामंत्री किशन शर्मा, सिपाही यादव, विजय जी, राजेश जी, सतीश जी, मनोज गुप्ता आदि व्यापारी भाई उपलध रहे।श्रोत-यशवन्त राय

जिला सचिव फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया व्यापार मंडल गाजीपुर