गाजीपुर-दशहरा के दिन पीएम मोदी व अमित शाह का भाकपा (माले)करेगी विरोध

गाजीपुर-भाकपा ( माले) जिला कमेटी की दो दिवसीय बैठक, करन्डा थाना क्षेत्र के ब्राह्मणपुरा गांव में हुई।बैठक में यह तय किया गये कि 15 अक्टूबर को दशहरा के दिन गांव- गांव में मोदी और अमित शाह का विरोध किया जायेगा।18अक्टूबर को संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय आह्वान पर गाजीपुर, और जमानियां में रेल रोको आंदोलन,के साथ नवम्बर के अंतिम सप्ताह में गाजीपुर में आयोजित किसान- मजदूर महापंचायत की तैयारी पर प्रमुख रूप से बातचीत हुई।
बैठक को संबोधित करते हुए भाकपा (माले) जिला सचिव रामप्यारे राम ने कहा,कि लखीमपुर में किसानों के जनसंहार के जिम्मेदार केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त कर गिरफ्तार कर जेल भेजने, के बजाय, मोदी सरकार बचाव करने लगीं है जो केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री का पद पर बने रहना, न्याय के साथ समझौता है।और यह अकल्पनीय है इस तरह से निर्दोष किसानों को न्याय से बंचित कर रही है उन्होंने कहा कि दशहरा को भारत में बुराई पर अच्छाई की जीत का जश्न मनाने के लिए मनाया जाता है। दशहरा पर बुराई के बिनाश को दिखाने के लिए रावण और बुराई के प्रतीक अन्य लोगों के पुतलों को जलाया जाता है।इस बार 15 अक्टूबर को मोदी, अमित शाह,अजय मिश्रा टेनी का पुतला गांव-गाव में जलाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि किसानों और श्रमिकों की आजिविका को सीधे प्रभावित करने वाले क्षेत्रों में कानूनी परिवर्तनों को अपनाया जा रहा है।18 अक्टूबर को गाजीपुर और जमानियां में रेल रोको कार्यक्रम को कामयाब बनाने की अपील की ।
बेठक को राजेश वनवासी, सत्येन्द्र कुमार, मंजू गोंड, मोती प्रधान, योगेन्द्र भारती, अमरनाथ, नंदकिशोर बिंद,बेचू बनवासी, कन्हैया बिंद, सुमित्रा देवी, चंद्रावती देवी, मुराली बनवासी, विजय कुमार ने सम्बोधित किया।
भवदीय
राम प्यारे राम

Also Read:  विधायकों का विरोध दरकिनार