गाजीपुर-दहेज की बलिबेदी पर फिर एक मासूम

0
446

गाजीपुर-दुल्लहपुर थाना क्षेत्र के बड़ामियना (जलालाबाद) गांव में शुक्रवार की सुबह करीब दस बजे राजेश चौहान की पत्नी ऊषा चौहान आयु 26 वर्ष का शव मकान के एक कमरा में छत की कुंडी से दुपट्टा के सहारे लटकता मिला। इस घटना की जानकारी किसी ने दुल्लहपुर पुलिस को दी। जानकारी मिलने पर जलालाबाद चौकी प्रभारी अंजनी कुमार मिश्रा तथा नायब तहसीलदार जखनिया जयप्रकाश मौके पर पहुंच गए। नायब तहसीलदार ने मायके, ससुराल पक्ष एवं ग्रामीणों के सामने दरवाजा तोड़वाकर शव को नीचे उतरवाया। नायब तहसीलदार व चौकी प्रभारी ने आवश्यक कागजी कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मालूम हो कि मऊ जनपद के दोहरीघाट कोतवाली क्षेत्र के माली गांव निवासी मृतका ऊषा की शादी दो वर्ष पहले राजेश चौहान से हुई थी। उषा को अभी तक कोई संतान नहीं हुआ था। मायके पक्ष से पहुंचे लोगों ने बताया कि सुबह दस बजे फाासी पर लटक कर जान देने की सूचना पर लोग उषा के ससुराल पहुंचे थे। मृतका के भाई अशोक चौहान ने मृतका के ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न व हत्या की तहरीर दी। भाई ने आरोप लगाया कि बहन की सास आएदिन दहेज के लिए प्रताड़ित कर उससे झगड़ा करती थी। दो सप्ताह पूर्व ही मृतका अपने मायके से ससुराल आई थी। दो दिन पूर्व मायके उषा ने फोन कर पैसे की मांग की थी, जिस पर उसके ससुराल गुरुवार को बीस हजार रुपया उसके पति राजेश के खाते में भेजा था, जिसकी रसीद उसने पुलिस को दिखाया। मृतका का पति पहले दुबई मे रहकर मजदूरी करता था। छह माह पूर्व वह अपने गांव लौटा है, लेकिन लाक डाउन के चलते अभी तक घर पर रहकर पेंटिंग का काम करता है। इस संबंध में थाना प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। मृतका के भाई ने दहेज हत्या की तहरीर दी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई प्रारंभ की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here