गाजीपुर-दादा के मृत्यु का घाट नहाते पोता डूबा

गाजीपुर-दिलदार नगर थानाक्षेत्र के अमौरा गांव के निवासी रामप्रवेश वुधवार को कर्मनाशा नदी में घाट नहाने अपने जुड़वा बेटों अभिषेक व अजय के साथ गये थे।पिता जब कर्मनाशा से नहा कर जब बाहर निकले तो दोनो पुत्र नहाने गये।नहाते समय गहरे पानी में जाने से अभिषेक तो डूब गया लेकिन ग्रामीणों ने आनन-फानन में अजय को बचा लिया। दिलदारनगर पुलिस गोताखोरों को बुलाकर डूबे अभिषेक के शव की तलाश में जुट गई ।प्राप्त जानकारी के अनुसार अमौरा गांव निवासी रामप्रवेश यादव के पिता की मौत कोविड-19 के चलते 4 मई को वाराणसी में हो गई थी।उस समय वे अपने पिता का श्राद्ध कर्म नहीं कर पाए थे। 21 जून को रामप्रवेश अमौरा गांव पहुंचे और पिता के श्राद्ध कर्म में जुट गए। बुधवार को रामप्रवेश अन्य ग्रामीणों के साथ अपने पुत्रों अभिषेक व अजय को साथ लेकर घाट नहाने कर्मनाशा नदी पहुंचे। पिता रामप्रवेश के नहाने के बाद दोनों भाई कर्मनाशा में नहाते- नहातेगहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। अपने दोनों पुत्रों को पानी में डूबता देख रामप्रवेश शोरगुल मचाने लगे।यह देख घाट पर मौजूद अन्य लोग नदी में कूद गए और किसी तरह से अजय को बचा लिया लेकिन अभिषेक गहरे पानी में डूब गया। घटना की जानकारी प्राप्त होने पर थानाध्यक्ष दिलदारनगर कमलेश पाल भी दल बल के साथ मौके पर पंहुचे और गोताखोरों के मदद से अभिषेक के शव की तलाश में जुट गए।

Also Read:  गाजीपुर-कोरोना वायरस के लक्षण, बचाव व उपचार-डा०एम.डी.सिंह