गाजीपुर-दादी-पोती एक साथ जल कर मरी

गाजीपुर- थानाक्षेत्र रेवतीपुर के साधोपुर रामपुर गांव में बुधवार की दोपहर मड़ई में चूल्हे से निकली चिंगारी से लगी आग के चलते अंदर सो रही दादी-पोती जिंदा जलकर राख हो गई। जिंदा जलने की मौत की सूचना के बाद प्रशासन हलकान हो गया। काफी देर बाद पहुंची दमकल ने किसी तरह आग पर काबू पाया लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी साथ ही गृहस्थी का सारा सामान राख हो चुका था। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। गांव निवासिनी सोमारी देवी आयु 55 वर्ष अपनी मासूम पोती संध्या यादव आयु 5 वर्ष पुत्री राजेश यादव के साथ झोपड़ी में रहती थी। बुधवार की दोपहर में दादी-पोती अंदर ही सो रही थीं। इस बीच संभवतः चूल्हे से निकली चिंगारी के चलते उनकी झोपड़ी में आग लग गई। आग की तपिश पाकर सोमारी बाहर भागीं। इस बीच आग तेज हुई तो वो संध्या को बचाने के लिए फिर से अंदर गईं। इसके बाद जब तक वो बाहर निकल पातीं, आग ने बगल की झोपड़ियों को भी जद में लेकर विकराल रूप धारण कर दिया। ये देख दादी ने पोती को बचाने के लिए खुद से चिपका लिया लेकिन बाहर न निकल पाने के चलते दोनों अंदर ही जिंदा जल गईं। घटना के बाद ग्रामीणों ने आग पर काबू पाने का काफी प्रयास किया लेकिन आग न बुझ सकी। लपटें इस कदर तेज थीं कि कई किमी दूर से धुआं दिख रहा था। बाद में पहुंची दमकल ने आग पर काबू पाया। लेकिन तब तक सोमारी व संध्या समेत 4 बकरियां भी जिंदा जलकर राख हो गईं। वहीं बिस्तर, अनाज, कपड़े समेत नकदी भी जलकर राख हो गए। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

Also Read:  गाजीपुर-मैडम आंगनबाडियों के द्वारे-द्वारे, सादा स्टैंंप पेपर लेकर