गाजीपुर-दुर्घटना में इकलौते पुत्र की मौत,माँ-पत्नी होती रही अचेत

गाजीपुर- खानपुर थाना क्षेत्र के बभनौली निवासी रामाशीष यादव सडक़ हादसे में घायल हो गए थे। घायल रामाशीष यादव का अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार बभनौली गांव निवासी महेंद्र यादव का इकलौता पुत्र रामाशीष यादव आयु 35 वर्ष के मौत की खबर आते ही गांव में कोहराम मच गया। पत्नी मुन्नी देवी अपने दोनों अबोध बेटियों को लेकर दहाड़ मार कर रोने लगी। रामाशीष यादव वाराणसी नगर निगम की गाड़ी चलाकर परिवार की जरूरत और जिम्मेदारियों को पूरा करते थे। सोमवार की शाम वाराणसी के शिवपुर में अचानक पीछे से लगे ट्रक के धक्के से वह अनियंत्रित होकर सामने की गाड़ी से टकरा गए । इस टक्कर मे रामाशीष के सिर में गंभीर चोट लगने के कारण उन्हेंवाराणसी ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया था।जहां उनका इलाज चल रहा था।मंगलवार की सुबह जिंदगी और मौत की जंग में मौत जीत गई और जिंदगी जंग हार गई। मां सुशीला देवी इकलौते बेटे की मृत्यु के गम में बार-बार बेहोश हो जा रही थी।पिता महेंद्र यादव मुंबई में रहकर ड्राइवर का कार्य करते हैं। मिलनसार और हंसमुख स्वभाव होने के कारण रामाशीष यादव की मौत से पूरा गांव गमगीन है।

Also Read:  गाजीपुर-सर्पदंश से युवती की मौत