गाजीपुर-नगरपालिका का ऐतिहासिक फैसला

गाजीपुर। नगर पालिका परिषद गाजीपुर की बोर्ड बैठक बुधवार को अध्यक्ष सरिता अग्रवाल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में स्वकर (हाउस टैक्स-वाटर टैक्स) के वर्तमान दरों में 50% की कमी एवं गैर आवासीय (वाणिज्यिक) भवनों पर 12 गुना से घटाकर 6 गुना करने का ऐतिहासिक एवं अभूतपूर्व निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया।

इसकी जानकारी देते हुए अध्यक्ष सरिता अग्रवाल व पूर्व अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने बताया कि वर्ष 2011-12 में तत्कालीन बसपा सरकार के कार्यकाल में नगर की जनता पर स्वकर का भारी बोझ का नियम बनाकर लाद दिया गया था जिससे नगर की जनता काफी परेशान थी। स्वकर की दरों में 50% की कमी करने की मांग लगातार शासन-प्रशासन से की जा रही थी। इस विषय पर बोर्ड की बैठकों में प्रस्ताव पास कर कम करने की मांग की गयी थी।

स्वकर के रेट अत्यधिक होने के कारण कई वर्षों से अधिकांश लोगों ने टैक्स नहीं जमा कर पाये थे। इससे नगर पालिका के राजस्व में बढ़ोतरी नहीं हो पा रही थी। इसके अतिरिक्त अन्य जगहों की नगर पालिकाओं की तुलना में गाजीपुर में स्वकर की दरें काफी अधिक थी। बोर्ड की बैठक में स्वकर की प्रचलित दरों में 50% कम करने व गैर आवासीय (वाणिज्यिक) भवनों पर लागू 12 गुना को घटाकर 6 गुना करने का सर्वसम्मति प्रस्ताव पास हुआ। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि 12-13 से लागू स्वकर की जमा की गयी धनराशि का भी समायोजन आगामी वर्षों में किया जाएगा।

इस ऐतिहासिक एवं अभूतपूर्व फैसले से नगर की जनता में खुशी की लहर दौड़ गयी है और लोग इसके लिए पालिका अध्यक्ष सरिता अग्रवाल, पूर्व अध्यक्ष विनोद अग्रवाल सहित सभी सभासदों को धन्यवाद दिया।

बैठक में अधिशासी अधिकारी लालचन्द सरोज एवं सभासदगण निर्गुणदास केशरी, अर्जुन सेठ, समरेन्द्रनाथ सिंह, अमरनाथ दुबे, कुंवरबहादुर सिंह, अनिल वर्मा, वन्दना मौर्या, सारिका राय, संजय कटियार, सोमेश मोहन राय, कमलेश श्रीवास्तव, अनिता देवी, इशरत जहां, शफकतुल्लाह, सुशील वर्मा, हरिलाल गुप्ता, संतोषी देवी, परवेज अहमद, धीरेन्द्र यादव, आसमा खातून, अमीना खातून, नेहाल अहमद, गोपाल वर्मा, ओमप्रकाश वर्मा, सुशील वर्मा, रूबी यादव, संजय राम, कमलेश बिन्द, संजय कुमार के अलावा जेई सिविल विवेक बिन्द, जेई जल पूजा सिंह आदि लोग उपस्थित थे।