गाजीपुर-नहीं टुटी चार सौ साल पुरानी परंपरा

0
336

गाज़ीपुर। असत्य पर सत्य की जीत का पौराणिक त्योहार विजयादशमी गाज़ीपुर के लंका मैदान में 20 फीट के मास्क पहने रावण पुतला दहन के साथ 25 अक्टूबर की शाम सांयकाल 6.30 बजे कुशलपूर्वक अनलॉक नियमों की गाइड लाइन अनुरूप सम्पन्न हुआ।

जैसा कि आपको विदित है कि अति प्राचीन रामलीला कमेटी ‘हरिशंकरी’ गाजीपुर की पिछले साढे 400 वर्षों से सांस्कृतिक एवं पौराणिक श्री रामलीला का मंचन करती आ रही है। उसी तारतम्य में 25 अक्टूबर, दिन रविवार को दशहरे के उपलक्ष्य में रावण दहन का कार्यक्रम रामलीला मैदान लंका में सायं 5 बजे से सरकार द्वारा जारी कोविड-19 अनलॉक गाइडलाइन के अनुरूप पालन करते हुए श्रद्धा पूर्वक मनाया गया। जिसमें राम रावण संवाद एवम युद्ध, रावण वध एवम रावण पुतले का दहन कार्यक्रम संपन्न हुआ।

आगे आपको बताते चलें कि गाजीपुर की ऐतिहासिक रामलीला सिर्फ अति प्राचीन रामलीला कमेटी, हरिशंकरी के अकेले की बात नहीं है, जब तक कि स्थानीय जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, नगर पालिका परिषद, मीडिया एवं जनता के सहयोग बिना इस तरह की रामलीला का मंचन करना संभव नहीं है। इसलिए कमेटी गाजीपुर की जनता, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, नगर पालिका परिषद एवं मीडिया को बहुत-बहुत धन्यवाद देती है कि, इन लोगों ने इस रामलीला मंचन में अपना पूरा पूरा सहयोग प्रदान किया, तब जाकर कोविड-19 और सरकार की गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन हुआ।

अतः इस सांस्कृतिक एवं पौराणिक कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए कमेटी पुनः गाजीपुर के यशस्वी जिलाधिकारी श्री मंगला प्रसाद सिंह जी एवं गाजीपुर के पुलिस अधीक्षक श्री डॉ० ओम प्रकाश सिंह जी को विशेष धन्यवाद देती है कि इनके नेतृत्व में इस संक्रमण काल के दौरान भी यहां की परंपरिक रामलीला का मंचन हुआ और साढ़े चार सौ सालों की परंपरा को जीवित रखने में अपना सहयोग दिया।

इस अवसर पर नगर पालिका चेयरमैन प्रतिनिधि विनोद अग्रवाल, भाजपा नगर अध्यक्ष अजय गुप्ता, कमेटी के अध्यक्ष दीनानाथ गुप्त, मंत्री ओमप्रकाश उर्फ बच्चा तिवारी, उपाध्यक्ष विनय सिंह, कोषाध्यक्ष अभय अग्रवाल, अशोक अग्रवाल, वीरेश चन्द्र वर्मा, संजीव सिंह, असित सेठ, ओमनारायण सैनी, पंडित लव त्रिवेदी, रोहित अग्रवाल, रासबिहारी राय, अजय अग्रवाल, शिवपूजन तिवारी, मयंक तिवारी, मनोज तिवारी, श्रवण गुप्ता के साथ पुलिस एवम प्रशासनिक लोग उपस्थित रहे। प्रेषक-ओमप्रकाश तिवारी उर्फ बच्चा तिवारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here