गाजीपुर-नाबलिग बच्चों की गुमशुदगी का एफआईआर दर्ज करने में हीलाहवाली पर नपेंगे एसओ और मुंशी

0
496

गाजीपुर-अपर पुलिस महानिदेशक आशुतोष पांडेय गाजीपुर में रहकर दो दिवसीय समीक्षा बैठक करेंगे। आज 22 अक्टूबर को पुलिस लाइन सभागार में पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने बताया कि राज्‍य सरकार की अपराध रोकने की योजनायें सही तरीके से प्रदेश में लागू हो इसी बिषय को लेकर समीक्षा बैठक की जायेगी। उन्‍होने बताया कि यह उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्‍य है,जिसमे आप सभी संगीन अपराध की केस डायरी कम्‍प्‍यूटर पर देख सकते हैं। सरकार प्रत्‍येक जनपद के सभी थानों को कम्प्यूटर व प्रिंटर थानों को उपलब्ध करा रही है जिसमें प्रिन्टर का मूल्य 41 हजार व कम्‍प्‍यूटर का मूल्य लगभग 55 हजार है।कम्प्यूटर से प्रिन्ट आउट निकलने के लिए बडे थानों को 12 हजार तथा छोटे थानों को पांच हजार ए-4 साइज पेपर दिया जा रहा है।लावारिश लाशों के दाह-संस्‍कार हेतू सरकार हर थाने को पैसा देती है। नाबालिग बच्‍चों की गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज करने में हीलाहवाली पर थानाध्‍यक्ष व मुंशी के खिलाफ कठोर कार्रवाई किया जायेगा।प्रदेश मे सीसीटीएन के माध्‍यम से छह माह में साढ़े पांच लाख मुकदमे दर्ज हुए है। मुकदमों का विवेचना अधिकारी ही न्‍यायालय में पैरवी करेगा। अज्ञात चोरों व लुटेरों के खिलाफ भी आनलाइन मुकदमा दर्ज होगा। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक डा. अरविंद चतुर्वेदी, एसपी सिटी प्रदीप कुमार, एसपी ग्रामीण चंद्रप्रकाश शुक्‍ला व सभी सर्किल के क्षेत्राधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here