गाजीपुर-नेता उत्साहित कार्यकर्ता हतोत्साहित

गाजीपुर-उत्तर प्रदेश में आने वाले कुछ ही महीनों में विधानसभा का चुनाव होने वाला है।प्रदेश की सत्ता पर काबिज होने के लिए सभी प्रमुख राजनीतिक दल महीनों पहले से रणनीति बनने और संगठन को धार देने में लगे हुए हैं। वर्तमान समय में उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय नेता हो या राज्य स्तरीय नेता हो प्रदेश में दोबारा सरकार बनाने के लंबे चौड़े दावे तो कर रहे हैं लेकिन ठीक इसके विपरीत प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी का जमीनी कार्यकर्ता हतोत्साहित और निराशा प्रतीत हो रहा है। मीडिया के लोगों से रूबरू होने पर नाम न सार्वजनिक करने की शर्त पर खुलेआम अपने दिल की भड़ास निकालते हुए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की सत्ता से विदाई का दावा कर रहा है। वहीं दूसरी तरफ जिस मजबूती से समाजवादी पार्टी और उसके घटक दल उभर रहे हैं।उससे आने वाले विधानसभा का चुनाव जोरदार और जबरदस्त होगा तो तय है लेकिन सरकार किसकी बनेगी यह अभी नहीं कहा जा सकता है। सर्वे के नाम पर मोटी रकम डकार कर अपनी दुकान चलाने वाली सर्वे एजेंसियां कोई भारतीय जनता पार्टी का दोबारा में सत्ता में वापसी दिखा रही है तो वहीं दूसरी सर्वे एजेंसियां विपक्ष में मौजूद समाजवादी पार्टी गठबंधन या समाजवादी पार्टी की सरकार की वापसी की भविष्यवाणी कर रहे हैं। फिलहाल बहुजन समाज पार्टी के लोग इस बात को माने या ना माने लेकिन उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी आज की तारीख मे तीसरे नंबर की पार्टी बनती दिखाई दे रही है। भविष्य में उत्तर प्रदेश की जनता किसे जनादेश देगी यह तो भविष्य के गर्भ में है लेकिन राजनैतिक विश्लेषक विश्लेषण करने में व्यस्त हैं। लेकिन यह तो तय है कि जहां भारतीय जनता पार्टी के नेता दोबारा सरकार बनाने के लिए उत्साहित हैं वहीं दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी का जमीनी कार्यकर्ता हतोत्साहित है।दुशरी तरफ समाजवादी पार्टी और उसके घटक दल के नेता और कार्यकर्ता दोनो सत्ता पर काबिज होने को लेकर जबरदस्त रूप से उत्साहित है। कुल मिलाकर यह राजनीति है जनता जनार्दन कब किसे किस मुद्दे पर अर्श से फर्श पर और फर्श से अर्श पर बिठा देगी कहा नहीं जा सकता है।

Also Read:  गाजीपुर-तमंचा और कारतूस के साथ एक गिरफ्तार और एक फरार