गाजीपुर-न्याय के लिए दर-बदर परिवार

0
176

गाजीपुर-मरदह थानाक्षेत्र के क्षेत्र के एक गांव में निवासी को दो माह पहले घर से निकाले जाने के बाद परिवार का मुखिया परिवार सहित न्याय की उम्मीद में दर-दर भटकता रहा। अंततः परिवार का मुखिया परिवार सहित शनिवार को कासिमाबाद तहसील में एसडीएम कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गया। परिवार के मुखिया का आरोप है कि उसके चाचा ने घर से बेदखल कर दिया है, वह अन्याय के लिए पुलिस चौकी मटेहूं, थाना मरदह और कासिमाबाद तहसील पर न्याय हेतू अनेकों बार गुहार लगा चुका है। लेकिन कहीं उसकी सुनवाई ना होने पर वह धरने पर बैठने के लिए मजबूर हुआ है। शनिवार को पत्नी रिंकू देवी व बच्चों के साथ कासिमाबाद तहसील परिसर में वह धरने पर बैठ गया। दो घंटे तक धरने पर बैठने के बाद उप जिलाधिकारी एवं तहसीलदार द्वारा पुलिस बल के साथ घर में प्रवेश कराने का आश्वासन देने पर उसने अपना धरना समाप्त किया। मरदह थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत गाई के राजस्व ग्राम मठिया निवासी रामविलास यादव एवं उसकी पत्नी रिंकू देवी को बच्चों सहित उसका चाचा जगन्नाथ यादव बीते 9 सितंबर को यह कहते हुए घर से निकाल दिया कि तुम अपने लिए नया घर बना लो।उसी दिन से रामविलास अपनी पत्नी रिंकू के साथ पुलिस चौकी मटेहूं, तो कभी थाना मरदह के साथ ही कासिमाबाद तहसील का चक्कर लगाने लगा। इसके बाद भी जब उसे कहीं से न्याय नहीं मिला तो 30 अक्टूबर को अपने परिवार सहित रामविलास एसडीएम भारत भार्गव से मिलकर न्याय की गुहार लगा रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here