गाजीपुर-पुर्व एमएलसी सहित 30 ज्ञात व 1 हजार अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज

गाजीपुर-खानपुर थानाक्षेत्र के सिधौना बाजार में शुक्रवार को सैनिक की मौत के बाद उसके सम्मान को लेकर भारी बवाल व 6 घंटे तक राजमार्ग जाम करने के साथ ही एसडीएम, थानाध्यक्ष, रोडवेज व निजी बसों मे तोडफ़ोड़ व पत्थरबाजी करने वालों को चिह्नित करने में पुलिस पूरी तरह से जुट गई है। इस मामले में घटना के 24 घंटों के अंदर सबसे बड़ी कार्रवाई करते हुए खानपुर थाने में पूर्व एमएलसी विजय यादव व जिला पंचायत सदस्य कमलेश यादव राय समेत 30 नामजद व हजारों अज्ञात के खिलाफ 18 गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया और सभी की गिरफ्तारी की तैयारी में पुलिस जुट गई है।

थानाध्यक्ष जितेंद्र सिंह ने बताया कि इस मामले में शनिवार को सिधौना चौकी इंचार्ज प्रमोद कुमार सिंह ने पूर्व एमएलसी विजय यादव व बबलू यादव के खिलाफ तहरीर देते हुए बताया कि भोर में सादात के वृंदावन निवासी जवान अभिषेक यादव का शव आया लेकिन उसे पूर्व एमएलसी व बबलू ने गेस्ट हाउस पर रोका और अंदर ले गए। इसके बाद तहसीलदार पहुंचे तो पूर्व एमएलसी ने जवान के गांव के रमेश यादव से कहा कि सेना की गाड़ी आने वाली है। उसी से ससम्मान शव को ले जाया जाएगा। कुछ ही देर में आरोप लगाया कि दोनों आपस में कहने लगे कि सेना की गाड़ी नहीं आएगी और इसके बाद गांव से सैकड़ों की संख्या में बाइक सवारों को बुला लिया। तहरीर में कहा कि इसके बाद पहुंचे बाइक सवारों ने इसे जवान के मौत का अपमान बताते हुए शासन प्रशासन विरोधी नारे लगाने शुरू कर दिए और बवाल की शुरूआत कर दी। कुछ ही देर में अराजक तत्वों ने राजमार्ग 29 को जाम कर दिया और वहां मौजूद 5 रोडवेज बसों समेत 3 निजी यात्री बसों में तोड़फोड़ व लूट शुरू कर दी। जिसमें करीब 2 दर्जन यात्रियों को चोटें आईं। इस बीच वहां पहुंचे तहसीलदार दिनेश कुमार व खानपुर थानाध्यक्ष जितेंद्र सिंह के वाहन पर भी उन्होंने हमला करके उसे चारो तरफ से तोड़ दिया। इसके बाद वहां पहुंची कई थानों की पुलिस से भी वो भिड़ गए। जिसमें सिपाही आकाश सिंह व मुकुल मिश्र घायल भी हो गए। घटना के बाद वहां अफरा तफरी मच गई।

Also Read:  गाजीपुर- अज्ञात युवक का शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी

किसी तरह आम जनता वहां से जान बचाकर भागी। मनबढ़ों की मांग थी कि जवान के शव को सेना के वाहन से न भेजकर अपमान किया गया। इस मामले में एसआई ने पूर्व एमएलसी विजय यादव व बबलू यादव समेत जिपं सदस्य कमलेश यादव राय, आशीष यादव, चंद्रशेखर यादव, प्रिंस यादव, किशन यादव, शुभम यादव निवासी मड़ई ,पवन चौहान,राहुल चौबे,अमन सिंह, गौरव चौहान,लाला चौहान,रामनिवास प्रजापति समेत शादियाबाद, सादात, बहरियाबाद आदि के 30 नामजद व हजारों अज्ञात के खिलाफ लोक संपत्ति क्षति निवारण अधिनियम समेत 18 गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। थानाध्यक्ष जितेंद्र सिंह ने बताया कि घटना में शामिल हजारों भीड़ को वीडियो के माध्यम से चिह्नित करने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं नामजद अभियुक्तों की जल्द ही गिरफ्तारी होगी

Also Read:  गाजीपुर-युवक की हत्या या आत्महत्या ?