गाजीपुर-पुर्व प्रधानमंत्री के पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित

0
188

गाजीपुर- 11 जनवरी को 2021 को अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के तत्वाधान में महासभा के जिला अध्यक्ष अरुण कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व०लाल बहादुर शास्त्री जी की पुण्यतिथि के अवसर पर शास्त्री नगर स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कार्यक्रम एवं विचार गोष्ठी आयोजित हुई। गोष्टी आरंभ होने के पूर्व महासभा के सभी कार्यकर्ताओं ने उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए सार्वजनिक जीवन में नैतिकता और ईमानदारी का पालन करने का संकल्प लिया ।
संगोष्ठी में पूर्व सांसद राधामोहन सिंह ने उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर विस्तृत रूप से प्रकाश डालते हुए कहा कि लाल बहादुर शास्त्री जी महान देशभक्त थे ,उनके अंदर राष्ट्रभक्ति कूट-कूट कर भरी हुई थी । वह स्वाधीनता आंदोलन के अग्रणी सेनानी थे । वह हमेशा गांधी जी के सत्य और अहिंसा की नीति का पालन करते थे ।शास्त्री जी ने सदैव धर्मनिरपेक्षता के विचार को बढ़ावा दिया । लाल बहादुर शास्त्री ने अपना पूरा जीवन अनुशासन और सादगी के साथ जिया।आजादी के बाद व देश के रेल मंत्री और गृह मंत्री बने तथा 1964 में नेहरू जी के मृत्यु के पश्चात उन्होंने भारत के दूसरे प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला । प्रधानमंत्री के रूप में उनका 18 महीने का कार्यकाल गीता के 18 अध्यायों की तरह पूरी तरह से पाक और साफ था। उनके दामन पर कोई भी दाग नहीं लगा ।वह सच्चे देशभक्त और दृढ़ इच्छाशक्ति वाले नेता थे। जिन्होंने अपना पूरा जीवन देश की सेवा में लगा दिया अपने विनम्र स्वभाव और सादगी भरे जीवन के कारण प्रदेश के सबसे प्रिय नेता के रूप में आज भी याद किए जाते हैं। उनके मन में किसानों और जवानों के प्रति विशेष श्रृद्धा थी । उन्होंने ही जय जवान जय किसान का नारा दिया था ।
इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से महासभा के जिला अध्यक्ष अरुण कुमार श्रीवास्तव, सलाहकार बोर्ड के सदस्य सुरेश चंद श्रीवास्तव ,महासभा के प्रांतीय उपाध्यक्ष मुक्तेश्वर प्रसाद श्रीवास्तव, नगर अध्यक्ष अजय कुमार श्रीवास्तव ,संतोष श्रीवास्तव, सत्य प्रकाश श्रीवास्तव ,अमरनाथ श्रीवास्तव ,चंद्र प्रकाश श्रीवास्तव, राजेश कुमार श्रीवास्तव,विजय प्रकाश श्रीवास्तव, गौरव श्रीवास्तव, संजय सेवराई, विनोद श्रीवास्तव ,कल्लू सिंह,तदबीर आदि उपस्थित थे । कार्यक्रम का संचालन जिला सचिव शैल श्रीवास्तव ने किया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here