गाजीपुर-पुर्व विधायक बसपा छोड हुए सपाई

0
941

गाजीपुर- जनपद की जहूराबाद विधानसभा से वर्ष 2002 तथा 2007 में लगातार दो बार बहुजन समाज पार्टी के सिंबल पर उत्तर प्रदेश की विधानसभा में पहुंचने वाले कालीचरण राजभर ने आज बहुजन समाज पार्टी से किनारा करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया। समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद पूर्व विधायक कालीचरण राजभर ने कहा कि अखिलेश यादव एक युवा और ऊर्जावान नेता हैं तथा साथ ही पिछड़ों के हमदर्द भी हैं। राजभर समाज के विकास के लिए मैंने समाजवादी पार्टी का दामन थामा है। वर्ष 2012 में हुए विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की महिला उम्मीदवार शादाब फातिमा से पूर्व विधायक कालीचरण राजभर लगभग 4000 वोटों के अन्तर से पराजित हुए थे।वर्ष 2017 में सपा ने शादाब फातिमा का टिकट काटकर बिल्कुल नए चेहरे महेंद्र चौहान को टिकट दिया था। भाजपा और भाजपा के गठबंधन में जहुराबाद की सीट भासपा के हिस्से मे गयी और यहां से भासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओंमप्रकाश राजभर विधानसभा का चुनाव जीते थे और योगी सरकार में कैविनेट मंत्री बने थे।विरनो विकास खण्ड के पान्डेयपुर राधे के निवासी कालीचरन राजभर के राजनीति की शुरुआत ग्राम प्रधान पद से हुई थी।इनकी पत्नी भी ग्राम प्रधान रह चूकी है। ग्राम प्रधान के पद पर रहते हुए वर्ष 2002 में विधायक का चूनाव लड़ा और विधायक बने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here