गाजीपुर-प्रदेश में योगी सरकार की वापसी तय

गाजीपुर;उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का कार्यक्रम अब समाप्त हो चुका है।त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव मे प्रदेश मे सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की बल्ले बल्ले है।त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव मे ब्लाक प्रमुख और जिला पंचायत चेयरमैन का चुनाव सत्ता, धनबल व बहुबल का होता है।कभी अपनी सफलता पर प्रदेश मे सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के पुर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इतराते थे। आज योगी आदित्यनाथ जी और भाजपा इतरा रही है। प्रदेश में सक्रिय समस्त राजनैतिक दल अब विधानसभा चुनाव के लिए कमर कस रहे हैं। विधानसभा चुनाव को देखते हुए समस्त राजनैतिक दल अपनी-अपनी रणनीति तैयार कर रहे हैं, उसके अनुसार कार्य कर रहे हैं। जनमानस में जब भी चर्चा होती है तो सरकार से नाराज लोग वर्तमान योगी आदित्यनाथ के सरकार की विदाई की कल्पना करके खुश हो रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी और योगी मोदी के समर्थक खुलेआम यह दावा करने से नहीं चूक रहे हैं कि आने वाली सरकार उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की ही बनेगी। हम समर्थक और विरोधी दोनों के दावों से किनारा करके एक आम आंकड़ा अपने पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं। आप हमारे दिए गए आंकड़े से सहमत भी हो सकते हैं और असहम भी हो सकते हैं ,यह आपका अधिकार है। हम मान लेते हैं कि 20% वोट समाजवादी पार्टी का है जो उसे मिलेगा, 20% वोट बहुजन समाज पार्टी का है जो उसे मिलेगा। इसी तरह से 5% वोट कांग्रेस के पाले में जाएगा,5% वोट ओमप्रकाश राजभर के गठबंधन को जाएगा, 5 % वोट अरविंद केजरीवाल के पार्टी को जाएगा, 5% वोट कम्युनिस्ट पार्टी के खाते में जाएगा। 5% वोट राष्ट्रीय लोक दल के खाते में जाएगा ।इस तरह से अगर हम उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में वोटों के बिखराव को देखें तो उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनती हुई हमें दिखाई दे रही है। राजनीति में कब क्या हो जाए यह कोई नहीं जानता लेकिन अनुमान लगाने का अधिकार सब को है, आपको भी ।