गाजीपुर-प्रधान के असहयोग का रोना रोया बीएसए से प्रधानाध्यापिका ने

गाजीपुर-दिनांक 11 मई 2022 को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्री हेमंत राव ने शिक्षा क्षेत्र सदर के अंतर्गत विद्यालयों का स्थलीय निरीक्षण किया।

सर्वप्रथम जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने उच्च प्राथमिक विद्यालय हुसैनपुर का निरीक्षण किया जहां प्रधानाध्यापक एवं एक सहायक अध्यापक कार्यरत थे दोनों निरीक्षण के दौरान उपस्थित पाए गए। विद्यालय में कुल 31 बच्चों के नामांकन के सापेक्ष 14 बच्चे मौके पर उपस्थित पाए गए। कंपोजिट ग्रांट के अंतर्गत अधिकांश कार्य कराया गया मिला किंतु दिव्यांग सुलभ शौचालय नहीं बना हुआ था। प्रधानाध्यापिका ने बताया कि ग्राम प्रधान का अपेक्षित सहयोग प्राप्त नहीं हो रहा है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने शैक्षिक माहौल बनाने एवं नामांकन बढ़ाने का निर्देश दिया ।उसके बाद जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने प्राथमिक विद्यालय जंजीरपुर का निरीक्षण किया यहां पर प्रधानाध्यापिका ,एक सहायक अध्यापिका एवं दो शिक्षामित्र कार्यरत है जिसमें से एक सहायक अध्यापिका अनामिका तिवारी दिनांक 14 नवंबर 2019 से लगातार बिना किसी सूचना के अनुपस्थित पाई गई जिस के संबंध में खंड शिक्षा अधिकारी सदर से स्पष्ट आख्या मांगी गई है। विद्यालय के जर्जर भवन की नीलामी अभी नहीं हुई थी। इस संबंध में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने खंड शिक्षा अधिकारी सदर को निर्देशित किया कि तत्काल जर्जर भवन की नीलामी की कार्रवाई पूर्ण कराएं। यहां कुल नामांकित 48 बच्चों के सापेक्ष 15 बच्चे उपस्थित मिले। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने अध्यापकों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। शैक्षिक गुणवत्ता एवं नामांकन बढ़ाने पर विशेष ध्यान दिया जाए। वैसे अधिकांश परिषदीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों से ग्राम प्रधानों का लेनदेन को लेकर विवाद जगजाहिर है।