गाजीपुर-बरनवाल समाज ने मनाया महाराजा अहिबरन की जयंती

गाजीपुर: खानपुर में बरनवाल समाज के आदि पुरुष महाराजा अहिबरन की जयंती महोत्सव का आयोजन किया गया। शुभारंभ प्रदेश अध्यक्ष श्रीकांत बरनवाल एवं महामंत्री रबिन्द्रनाथ ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम की शुरुआत हुई। छोटेलाल बरनवाल ने कहा कि बरनवाल समाज का एक गौरवशाली इतिहास रहा है। महाराज अहिबरन जी की जीवनी को घर में बच्चों को बताएं ताकि हमारी आने वाली युवा पीढ़ी अपने पूर्वजों को जान सके। उनके आदर्शों को जीवन में उतार सकें। अध्यक्ष अभिषेक कुमार ने कहा कि इस समाज में अधिकतर लोग व्यवसायी है जो अब संगठित होकर समाज के रचनात्मक कार्यों में आगे बढ़ रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष श्रीकांत ने कहा कि सत्तर लाख की सम्पन्न समृद्धि वाले बरनवाल समाज की आबादी आज सामाजिक और राजनीतिक रूप से उपेक्षित है। दस हजार पोस्टकार्ड के माध्यम से मुख्यमंत्री को अपने समाज की कुछ मांगें भेजी जा रही है। बुलंदशहर शहर का नाम बदलने और महाराज अहिबरन के महल को पुरातत्व विभाग को सौंप कर उन्हें सुरक्षित संपत्ति घोषित किया जाय। जो लोग मुगल आतंक के यातनाओं से बरनी मुसलमान बन गए है उन्हें वापस अपने समाज में लाने का प्रयास करेंगे। इस मौके पर भोलाजी, रामजी, संजीव, ज्ञानजी, राजेश, त्रिलोकी, राहुल, नीरज आदि उपस्थित थे।