गाजीपुर-बाईस घंटे बहत्तर गांव

0
281

गाजीपुर- जमानिया से दिलदारनगर विद्युत उपकेंद्र के लिए जाने वाली 33000 लाइन का एक जर्जर खंभा जमानियां कस्बा के पास स्थित भैदपुर गांव के पास गुरुवार की शाम करीब 3:00 बजे टूटकर गिर गया। इसकी वजह से अन्य चार खंभे भी तार सहित टूटकर खेत में गिर पड़े। यह अच्छा संयोग रहा कि हाईटेंशन तार की जद में कोई व्यक्ति या जीव जंतु नहीं आया अन्यथा कोई बडा हादसा हो सकता था। तार खंभा टूटने से चार फिडरों से संबंधित विद्युत आपूर्ति बंद हो गई। विद्युत आपूर्ति बंद होने से इन फिडरों से जुड़े 72 गांव की बत्ती गुल हो गई।इससे लोगों की काफी परेशानी बढ़ गई, लोगों ने सोचा कि शायद कोई छोटा-मोटा फाल्ट होगा उसे बिजली विभाग घंटे 2 घंटे में दुरुस्त कर लेगा, लेकिन पूरी रात बीत जाने के बाद सुबह का सूर्योदय का समय निकल जाने के भी बाद जब बिजली का दर्शन नहीं हुआ तो लोग परेशान हो गए। बिजली न होने के कारण सुबह सबसे अधिक परेशानी पानी को लेकर बढ़ गई। पानी के लिए लोगों को कड़ाके की ठंड में भी पसीना बहाना पड़ा।लोग जिस कुआं और हैन्ड पम्प लगभग भूल चुके उन्हें कुआं, बाल्टी और रस्सी के साथ ही हैन्ड पम्प का सहारा लेना पडा।कस्बों, बाजारों में बिजली पर आधारित कारोबारी हाथ पर हाथ धरे बिजली का इंतजार करते रहे।तमाम लोगों के मोबाइल और इन्वर्टर चार्ज ना होने की वजह से शोपीस बनकर रह गए।करीब 22 घंटे के बाद करीब दोपहर 1:00 बजे बिजली विभाग के अथक परिश्रम से लोगों को बिजली उपलब्ध हो पाई। इस संबंध में जेई तपस कुमार ने बताया कि जमानिया स्थित भैदपुर गांव में 33,000 बोल्ट का तार खंभे सहित टूट गया था इसकी वजह से अन्य चार पोल भी टूट कर खेत में गिर गए थे।जिसकी वजह से विद्युत आपूर्ति बहाल करने में काफी समय लगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here