गाजीपुर-बिटिया रंजू यादव का नया पता

गाजीपुर। जिला अस्पताल में मंगलवार की सुबह से ही एक करीब 20 वर्षीय अज्ञात युवती मजार के पास बैठी थी, जिसके साथ कोई नही था। बगल के दुकानदारों ने समाजसेवी कुँ. विरेंद्र सिंह को इसकी सूचना दी। इस पर वे कुछ ही देर बाद वह अपने साथियों के साथ वहां पहुंचे। श्री सिंह द्वारा पूछने पर युवती ने अपना नाम रंजू यादव बताया। देखने से मंदबुद्धि लग रही थी। उन्होंने लड़की होने के कारण बहुत कुछ पूछना उचित नहीं समझा। फिर युवती को खाने का समान दिलाकर इसकी सूचना आशा ज्योति केन्द्र की स्टाफ प्रियंका को दिया, जो तुरन्त अपने एक स्टाफ के साथ मौके पर आई और युवती से पूछताछ करने लगी। उसके पास से आधार कार्ड मिला, जिसमें उसका नाम रंजू यादव पुत्री कैलाश यादव पता फतेहपुर, अटवा गाजीपुर दर्ज था, जिसको मैं प्रियंका जी के साथ आशा ज्योति केन्द्र ले गया।आशा ज्योति का स्टाफ प्रियंका के घर का पता लगाकर सूचना देने की कोशिश में लग गया। शाम बहुत कोशिश के बाद युवती के घर पर अटवा चौकी के माध्यम से सूचना दे दिया गया है, लेकिन देर शाम तक परिवार के लोग नहीं पहुंचे थे।

Also Read:  फर्जी वीजा पर कुबैत गये 7 युवक फंसे