गाजीपुर-बैकफुट पर हड़ताली कर्मचारी

गाजीपुर-सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेवतीपुर पर शनिवार को कर्मचारियों ने प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक पर गाली-गलौज का आरोप लगाते हुए काम बंद कर धरना-प्रदर्शन शुरु कर दिया। इससे मरीजों की परेशानी बढ़ गई। हालांकि बाद में चिकित्सा अधीक्षक का तल्ख तेवर देख धरना समाप्त कर दिया। इसके बाद मरीजों ने राहत की सांस ली।

धरना-प्रदर्शन करने वाले स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारियों का आरोप था कि समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रेवतीपुर पर तैनात चिकित्सा अधीक्षक उनके साथ आएदिन ड्यूटी का समय समाप्त होने के बाद भी बेवजह काम करवाते है व छुट्टी भी नहीं देते है। देर रात चिकित्सा अधिकारी आए और हम लोगों के साथ गाली-गलौज करने लगे। उधर जैसे ही धरना की जानकारी ओपडी में तैनात चिकित्सा अधीक्षक को हुई, वह मौके पर पहुंच गए। उनका तल्ख तेवर देख कर्मचारी धरना समाप्त कर काम पर लौट गए। इसके बाद मरीजों ने राहत की सास ली। धरना की वजह से एक घंटा ओपीडी प्रभावित रहा। इस संबंध में प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डा. रूद्रकांत सिंह ने बताया कि इस केंद्र से डाक्टर एवं कर्मचारियों के नदारद रहने की शिकायत आएदिन मिल रही थी। इस पर मेरे द्वारा लापरवाह कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाई के लिए सीएमओ के यहां पत्र प्रेषित करने के साथ ही कारण बताओ नोटिस जारी किया था। इसी के चलते कर्मचारियों ने मुझपर झूठा आरोप लगाते हुए काम बाधित कर दिया। कर्मचारियों की मनमानी को किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Also Read:  गाजीपुर-आक्रोशित ग्रामीणों का प्रधान के घर धरना