गाजीपुर ब्राम्हण,बनियाँ ,कायस्थ और क्षत्रियों का आक्रोश, कही भाजपा की लुटिया न डूबा दे ?

image

गाजीपुर- जब से गाजीपुर के भारती जनता पार्टी के विभिन्न विधान सभा के प्रत्याशीयों की सूची जारी हुई है , गाजीपुर का राजनैतिक पारा काफी गर्म हो गया है। भारतीय जनता पार्टी का परंपरागत वोटर ब्राम्हण ,बनियाँ , कायस्थ और क्षत्रिय काफी आक्रोशित नजर आ रहा है। राजपूत मतदाताओं का कहना है कि डाँ०मुकेश सिह , उमेश सिह , अखिलेश सिह, डाँ०राजकुमार सिह गौतम, सिंघासन सिह , रामप्रकाश सिह , विशाल सिह चंचल आदि राजपूत नेताओं को दरकिनार कर जमानियाँ मे सुनीता सिह जैसी घरेलू महिला को टिकट देना कही से पच नही रहा है। राजपुत मतदाताओं का कहना है कि जमानियाँ से जहाँ अतुल राय और ओमप्रकाश जैसे बाहुवली लड रहे हो वहां भाजपा को सिंघासन सिह जैसे लडाकू प्रत्याशी देना चाहिए या कीसी पिछडे को प्रत्याशी बनाना चाहिए था। गाजीपुर सदर सीट पर जब सपा और बसपा ने ओबीसी प्रत्याशी उतारा था तो भाजपा को सामान्य जाति का प्रत्याशी उतारना चाहिए था। गाजीपुर का क्षत्रिय समाज भाजपा की जमानियाँ प्रत्याशी को डमी कन्डिडेट मानकर चल रहा है। गाजीपुर सदर के बारे मे क्षत्रिय समाज का कहना है कि यदि डाँ० राजकुमार सिह गौतम भाजपा मे नये थे तो डाँ०मुकेश सिह तो भाजपा के पुराने कार्यकर्ता थे। गाजीपुर मे ब्राम्हण , बनियाँ  और कायस्थ को एक भी सीट नही मिलने से काफी आक्रोशित है।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store