गाजीपुर-मनबढ़ कोटेदार गया जेल

गाजीपुर-बरेसर थाना क्षेत्र के श सागापाली दयाल सिंह पुरवा निवासी कोटेदार वीरेंद्र राम को पुलिस ने एससी एसटी एक्ट तथा सरकारी काम में अवरोध उत्पन्न करने के आरोप में गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां मामले की गंभीरता को देखते हुए न्यायालय ने उसे जिला जेल में भेज दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले वर्ष 2020 में बाराचवर ब्लाक पर स्थित राजकीय विपणन शाखा के गोदाम पर तैनात विपणन निरीक्षक देवीशरण गौतम रोज की तरह अपने सरकारी कार्य में व्यस्त थे। जहां सागापाली गांव के कोटेदार वीरेन्द्र राम द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का राशन एसएमआई ने मजदूरों के साथ वाहन से विरेंद्र राम के कोटे के दुकान पर भेजा, लेकिन कोटेदार ने राशन उतरवाने से इनकार करने क साथ ही मजदूरों से दुर्व्यवहार करने लगा। इसकी सूचना जब मजदूरों से मिलते ही विपणन निरीक्षक ने संबंधित एसडीएम को इसकी जानकारी देते हुए मौके पर पहुंच कोटेदार से राशन उतरवाने की बात कही। इसपर उल्टे कोटेदार ने उनके साथ भी गालीगलौज करते हुए दुर्व्यवहार करने लगा। कोटेदार के दुर्व्यवहार की उन्होंने जानकारी विभागीय अधिकारियों को देने के साथ ही बरेसर थाना पर पंहुच कर उक्त कोटेदार के खिलाफ विभिन्न धारा में मुकदमा पंजीकृत कराया था। मामला जब न्यायालय मे पंहुचा तो न्यायालय ने उसे कई बार नोटिस भेजकर तलब किया उसके बार-बार अनुपस्थित होने पर न्यायालय ने उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया।बरेसर थानाध्यक्ष राजेश बहादुर सिंह ने आरोपित को दबोच लिया। इसके बाद उसे थाना लाकर पूछताछ करने के बाद मेडिकल कराया। आरोपित कोटेदार को न्यायालय द्वारा जारी गैर जमानिय वारंट के आधार पर जेल भेज दिया गया है।

Also Read:  14 वर्ष से फरार ,अब 1 किलो गांजे के साथ गिरफ्तार