गाजीपुर- मार्च से ही नहीं रूकी ट्रेन, भुखमरी के कागार पर दुकानदार

0
223

गाजीपुर-नंदगंज रेलवे स्टेशन पर विगत आठ माह से एक भी ट्रेन नहीं रुक रही है। जबकि यह स्टेशन लार्ड्स डिस्टीलरी, औद्यौगिक क्षेत्र, रेलवे मालगोदाम, दर्जनों महाविद्यालयों के साथ ही देवकली, करण्डा व शादियाबाद ब्लॉक क्षेत्र के लोगों को समेटे हुए है। इन क्षेत्रों से लोगों को प्रतिदिन बनारस, जौनपुर, लखनऊ, नई दिल्ली, कोलकाता आदि स्थानों पर आना जाना रहता है। कोरोना काल में वाराणसी, औड़िहार, छपरा रुट पर दर्जनों यात्री ट्रेनें चल रही हैं, लेकिन एक भी ट्रेन का ठहराव नंदगंज रेलवे स्टेशन पर नहीं है। स्पेशल तथा विशेष रेलगाड़ियां धड़धड़ाते हुए आती जाती रहती है। लॉकडाउन 22 मार्च से पूर्व में सारनाथ एक्सप्रेस रुकती थी, लेकिन अब उसका भी यहाँ पर ठहराव नहीं किया गया है। क्षेत्र के लोगों को सुहेलदेव व सारनाथ एक्सप्रेस के चलने पर उम्मीद बंधी थी कि नंदगंज में भी ये गाड़ियाँ रुकेगी। लेकिन सुहेलदेव का भी ठहराव न होने से क्षेत्र के लोग काफी निराश हैं। नंदगंज में रेलवे का मालगोदाम बन जाने से व्यापारी वर्ग का भी आना जाना शुरु हो गया हैं। उनको भी अपने निजी साधन से यहाँ आना जाना पड़ रहा है। क्षेत्र के लोगों ने रेलमंत्री पीयूष गोयल एवं रेलवे प्रशासन से सुहेलदेव एक्सप्रेस के अप व डाउन ट्रेनों को रोकने की माँग की है, ताकि जौनपुर, लखनऊ तथा दिल्ली जाने वालों को सुविधा हो जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here