गाजीपुर-मिसाल-दुल्हन ही दहेज है

0
2956

गाजीपुर-जखनियां कस्बा स्थित पावर हाउस रोड निवासी विनोद कुमार सिंह (प्रवक्ता नेहरु इण्टर कालेज शादियाबाद) जो मूलतः झोटना ग्रामसभा निवासी हैं,अपने छोटे पुत्र डा.आनंद सिह,जो संघ लोक सेवा आयोग से मेडिकल की परीक्षा पास कर रेलवे में सहायक मंडल चिकित्साधिकारी कानपुर मे कार्यरत हैं।डा.आनन्द ने शादी बिना पैसे के कर क्षेत्र के लिये मिसाल पेश की है। डा.आनंद सिंह ने वृहस्पतिवार को प्राची सिंह से शादी कर परिणय बंधन में बधकर एक दूजे के हुए।बलियां जिले के बेल्थरा रोड के पास बनकरा गांव की रहने वाली प्राची सिंह राजकुमार सिंह की पुत्री हैं। प्राची सिंह बेहद सामान्य परिवार से हैं।श्री सिंह के बडे पुत्र डा आलोक सिंह जो जे.एन.यू दिल्ली में रिसर्च स्कालर हैं।उसकी भी शादी बिना दहेज के ही हुई थी।प्रवक्ता विनोद सिंह ने कहा कि दुल्हन ही दहेज है।श्री सिंह ने कहा कि कोविड को देखते हुए विवाह की सभी रस्में सादे माहौल में निभाई गयी।गांव से बारात भी सादे माहौल में गयी और लडकी वालों के यहां से केवल भोजन करके वापस आ गयी। विनोद सिंह के इस कदम की वर तथा वधू पक्ष के लोगों द्वारा जमकर सराहना की जा रही है।वहीं डा. आनन्द सिंह ने क्षेत्र के युवाओ के सामने भी दहेज न लेने की नजीर पेश की है।रिपोर्टर-अरविंद

Leave a Reply