गाजीपुर-मौत का जिम्मेदार कौन ?समाज या पुलिस

0
519

गाजीपुर- शादियाबाद थाना क्षेत्र के एक गांव में शुक्रवार रात पडोसी की छेड़खानी तंग एक 35 वर्षीय विधवा ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली।आरोपित की गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिवार के लोग महिला का शव पुलिस को पोस्टमार्टम हेतू उठाने नहीं दे रहे थे। पुलिस व लोगों के काफी समझाने पर शाम करीब पांच बजे शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।महिला के पति की मृत्यु चार साल पहले ही चुकी है। महिला अपने चार छोटे-छोटे बच्चों के साथ गांव मे रहती थी। जेठानी ने बताया कि गांव का ही एक व्यक्ति कुछ माह से उसके साथ छेड़खानी कर रहा था। कई बार समझाने पर भी वह नहीं माना। दो दिन पहले भी महिला ने आरोपित के खिलाफ थाने में तहरीर दी थी। तब लोगों ने समझा-बुझाकर समझौता करा दिया था।दूसरी ओर मासूम बच्चे मां के शव के पास बैठकर लोगों को आते-जाते टुकुर-टुकुर निहार रहे थे।शादियाबाद थाना प्रभारी शिवप्रताप वर्मा ने बताया कि दो दिन पहले महिला ने तहरीर दिया था। उसने तहरीर मे कहा था कि उसका पडोसी उसके साथ आयेदिन गाली गलौज करता है।बाद मे महिला ने खुद थाना मे आकर कहा कि आरोपी के खिलाफ कोई कानूनी कार्यवाही नहीं होनी चाहिए।दोनों पक्षों मे सुलह समझौता हो गया है।मृतका के जेठानी के तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर आरोपी की तलाश किया जा रहा है। सबसे बडा सवाल यह है कि महिला की मौत का जिम्मेदार कौन है ?समाज ,पुलिस प्रशासन ?

Leave a Reply