गाजीपुर- मौत के चार साल बाद जिन्दा

0
1206

गाजीपुर- इस खबर का टाईटल पढ कर आप भ्रमित न होवें यह खबर सौ प्रतिशत सत्य है।यदि आप इस खबर की सत्यता जानना चाहते है तो कासिमाबाद कोतवाली या ग्राम पंचायत खजुहां थाना कोतवाली कासिमाबाद जनपद गाजीपुर से पता कर सकते है।कासिमाबाद कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पंचायत खजुहां की जिस महिला को मृत समझकर परिवार वालों ने चार साल पहले पुतला बनाकर दाह संस्कार कर दिया था वह मृत महिला गत मंगलवार को अचानक अपने घर खजुहां पहुंची। उसे देखकर परिवार व गांव के लोग अवाक रह गए। इतने दिनों तक गायब होने के पीछे की उसने जो कहानी लोगों को सुनाई उसे सुनकर लोगों के रोंगटे खड़े हो गए। उसने गांव के ही एक व्यक्ति पर अपहरण कर आगरा ले जाकर बेचने व देह व्यापार में धकेलने का आरोप लगाते हुए कासिमाबाद कोतवाली में तहरीर दी। महिला के अनुसार 4 वर्ष पूर्व वह अपने घर से अपने लड़की के सुखंडी रोग का इलाज कराने के लिए करमूपुर गांव गई थी, रास्ते में ही गांव के एक व्यक्ति ने उसे फुसलाकर आगरा ले जाकर बेच दिया और उसे वहां देंह व्यापार के लिए मजबूर किया जाता रहा। किसी तरह 4 साल बाद वह उन दरिंदों के चंगूल से निकल भागी और अपने घर पहुंची तो उसे देखने के लिये लोगों की भारी भीड़ लग गई। महिला के खोने के बाद इसे मृत मानकर परिजनों ने महिला का पुतला बनाकर दाह संस्कार कर दिया था। कोतवाली प्रभारी बलवान सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है शीघ्र ही कार्यवाही की जाएगी। इस मामले को लेकर खजुहां गांव सहित आसपास के गांवों में काफी चर्चा का है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here