गाजीपुर-राजकुमार सिंह की विधायक ओमप्रकाश राजभर को चेतावनी

गाजीपुर-आज दिनांक 11 मई को अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा युवा गाजीपुर के युवा जिला अध्यक्ष राज कुमार सिंह के नेतृत्व में कासिमाबाद ब्लाक एवं बाराचवर ब्लॉक के संगठन के कार्यकर्ताओं काय प्रतिनिधि मंडल ग्राम सभा गोसलपुर थाना करीमुद्दीनपुर पहुंचा वहां पहुंचकर वहां के पीड़ित लोगों से मिलकर कल की घटना के बारे में पूरी बारीकी से जानकारी ली तथा वहां के लोगों से बातचीत किया उसके बाद क्षेत्राधिकारी मोहम्मदाबाद एवं थाना प्रभारी करीमुद्दीनपुर से भी बातचीत की इस मौके पर युवा जिला अध्यक्ष ने बताया कि कल की घटना ओमप्रकाश राजभर विधायक जहुराबाद और उनके 3 साथियों द्वारा पहले से ही प्रायोजित की गई थी यह घटना सोची समझी राजनीति के तहत की गई घटना थी क्योंकि पिछले दिनों चुनाव से पहले वहां पर विधायक जी का विरोध किया गया था जिस पर उसकी खुन्नस निकालने के लिए वहां के दो लड़कों जो क्षत्रिय थे जोकि कक्षा नौवीं के छात्र से वहाँ से जा रहे थे और उनको रोक कर जबरदस्ती उनसे गाली-गलौज कर मारपीट की गई और उल्टा उन्हीं लोगों को फंसाने के लिए वह धरने पर बैठ गए तथा वहां के वर्तमान प्रधान एवं पूर्व प्रधान द्वारा लोगों को उकसा कर बड़ी घटना कराने का प्रयास किया गया। लेकिन वह नहीं हो सका जिस पर विधायक ने स्थानीय लोगों को धमकाने का प्रयास किया तथा यह कहा गया कि 4 घर क्षत्रिय हैं इनको सबक सिखाया जाएगा। इस पर युवा जिला अध्यक्ष ने कहा कि उनकी मां ने अभी तक दूध नहीं पिलाया है क्षत्रियों को सबक सिखा सके। क्षत्रियों के बारे में अपशब्द भाषा का प्रयोग करना इनकी आदत बन चुकी है जो कि अब बर्दाश्त से बाहर है। अब हम लोग अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगेअगर फिर ऐसी घटना हुई तो हम लोग उन को छोड़ेंगे नहीं और यहां पर किसी को डरने और घबराने की जरूरत नहीं है। संगठन हमेशा साथ खड़ा है और अगर ओमप्रकाश राजभर नहीं सुधरे तो जहुराबाद तो छोड़ो संगठन जिस दिन अपने आप पर आया तो उनको जनपद में भी घुसने नहीं दिया जाएगा और थाना प्रभारी से मिलकर इस बात की चेतावनी दे दी गई कि अगर फिर ऐसी कोई घटना हुई और बेकसूर क्षत्रियों को फसाने की कोशिश की गई या उनके साथ को दुर्व्यवहार किया गया तो हम लोग प्रशासन की ईंट से ईंट बजा देंगे। हम कभी किसी को छोड़ते नहीं है लेकिन जो हमें छेड़े उसको छोड़ते भी नहीं है। इस मौके पर कासिमाबाद ब्लाक प्रभारी भूपेंद्र सिंह ,अनिल सिंह ,अभिजीत सिंह, पप्पू सिंह ,गोलू सिंह,बाराचावर प्रभारी अशोक सिंह, छोटेलाल सिंह, अभिषेक सिंह, विश्वजीत सिंह, मनीष सिंह के साथ-साथ स्थानीय लोग भारी संख्या में मौजूद रहे।